आंध्र प्रदेश के पूर्व स्पीकर सरकारी फर्नीचर और एसी भी घर ले गए, चोरी हुई तो हुआ खुलासा

News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 10:16 AM IST
आंध्र प्रदेश के पूर्व स्पीकर सरकारी फर्नीचर और एसी भी घर ले गए, चोरी हुई तो हुआ खुलासा
आंध्र प्रदेश के पूर्व स्पीकर कोडेला शिव प्रसाद राव पर सरकारी फर्नीचर घर पर ले जाने का लगा है आरोप (फाइल फोटो)

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष (Former Speaker) कोडेला शिव प्रसाद राव (Shiv Prasad Rao) पर कांग्रेस ने लगाया चोरी का आरोप.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2019, 10:16 AM IST
  • Share this:
नेताओं का सत्ता की कुर्सी को लेकर प्यार होना लाजमी है लेकिन अगर कोई उस सरकारी कुर्सी को अपने घर ही ले जाए तो आप क्या कहेंगे. आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में हाल में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष (Former Speaker) कोडेला शिव प्रसाद राव (Shiv Prasad Rao) के घर से चोरों (Theft) ने कंप्यूटर और कई सामान चोरी किए. बाद में जब चोरों को लगा कि वह पकड़े जाएंगे तो उन्होंने कंप्यूटर को सड़क के किनारे फेंक दिया. सीसीटीवी में कैद हुई इस घटना के बाद चोरों को पकड़ लिया गया. मामले की जांच की गई तो पता चला कि चोरी के सामान के साथ ही पूर्व स्पीकर ने विधानसभा से टेबल, डिजाइनर कुर्सियां, सोफे, एसी और कुछ कंप्यूटर तक अपने घर पर रख लिए.

कैसे खुली पोल
मामले का खुलासा होने के बाद वाईएसआर कांग्रेस ने राव पर सरकारी संपत्ति चुराने का आरोप लगाया है. बताया जाता है कि चोरों ने पूर्व स्पीकर के सत्तनापल्ली के निजी कार्यालय से दो सरकारी कंप्यूटर चुरा लिए थे. सत्तनापल्ली टाउन पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर सरथ बाबू ने बताया कि चोरी की सूचना के बाद जब हमने जांच शुरू की तो ऑफिस में काम करने वाला पूर्व कर्मचारी राव के घर के पास कंप्यूटर फेंकता हुआ दिखाई दिया, बाद में उसने आत्मसमर्पण कर दिया.

नेता जी का तर्क

मामला सामने आने के बाद राव ने दावा किया कि उन्होंने फर्नीचर, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स को चोरी होने से बचाने के लिए अपने कार्यालय में रख लिया था. उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश और तेलंगाना जब अगल हुए तब कार्यालय हैदाराबाद से अमरावती में स्थानांतरित किया गया था. उस समय सामान को टूटने से बचाने के लिए मैंने मेज, कुर्सी, एसी और कई कंप्यूटर अपने कार्यालय में रखवा दिए थे, जिससे उन्हें चोरी होने से बचाया जा सके.

Andhra Pradesh, former speaker, Shiv Prasad Rao, theft, CCTV, police investigation
आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू से मुलाकात करते पूर्व स्पीकर कोडेला शिव प्रसाद राव.


बेटे के शो रूम में भी मिले कई फर्नीचर
Loading...

द इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए, राव ने कहा कि जिस समय कार्यालय हटाया जा रहा था उस वक्त मोर के आकार की 14 कुर्सियां, एक सेंटर मेज, 117 प्लास्टिक की कुर्सियां, स्पीकर के कमरे में रखीं तीन कुर्सियां, एक सोफा, दो एयर कंडीशन और अलग-अलग कमरे में लगे थे. आंध्र प्रदेश विधानसभा के अधिकारियों के अनुसार, विधानसभा कार्यालय के कई फर्नीचर राव के बेटे शिवराम के गुंटूर शहर में स्थित मोटरसाइकिल शो रूम में पाए गए थे.

इसे भी पढ़ें :- पेइचिंग पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप, कहा- हमें चीन की जरूरत नहीं

तेलंगाना राज्य बनने के बाद बंद हुआ था कार्यालय
गौरतलब है कि जून 2014 में आंध्र प्रदेश के विभाजन और तेलंगाना के रूप में नए राज्य के बाद, परिसंपत्तियों को भी विभाजित किया गया था. आंध्र प्रदेश ने जून 2016 में अपनी चल-अचल संपत्तियों को अस्थायी कार्यालयों में जमा किया.

इसे भी पढ़ें :- भिवंडी में भरभराकर ढह गई 4 मंजिला इमारत, 2 की मौत, 5 लोग घायल

राव ने दिया तर्क, अधिकारियों ने नहीं दिया कोई जवाब
शिवप्रसाद ने बताया कि फर्नीचर, कंप्यूटर अस्थायी कैंपस में रखने से खराब हो जाते इसीलिए मैंने उन्हें अपने कार्यालय में शिफ्ट कराया था. मैं इस फर्नीचर को वापस करने के लिए तैयार हूं या फिर इसके जो पैसे होते हैं वो भी देने के लिए तैयार हूं. उन्होंने बताया कि इन सामान को वापस ले जाने के लिए मैंने पहले भी अधिकारियों से कहा था लेकिन मुझे अधिकारियों की ओर से कोई जवाब नहीं मिला.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2019, 9:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...