SL vs BAN : 18 महीने बाद गेंदबाजी करने आए मैथ्यूज ने पहली ही गेंद पर तय कर दी श्रीलंका की जीत

मैथ्यूज ने वनडे क्रिकेट में पिछली बार गेंदबाजी भारत के खिलाफ विशाखापट्टनम वनडे में ​की थी.जिसमें उन्होंने काफी रन लुटाए थे

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 12:09 PM IST
SL vs BAN : 18 महीने बाद गेंदबाजी करने आए मैथ्यूज ने पहली ही गेंद पर तय कर दी श्रीलंका की जीत
निकोल्स का विकेट लेने के बाद टीम के साथियों के जश्न बनाते एंजेलो मैथ्यूज बाएं
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 12:09 PM IST
श्रीलंकाई टीम वेस्टइंडीज को हराकर छठें स्थान पर आ गई है और अब इस जीत के साथ अभी भी उनकी नॉकआउट राउंड में जानें की संभावना बरकरार है. श्रीलंका ने 23 रन से जीत हासिल की और इसके साथ ही उसके आठ मैचों में कुल आठ अंक हो गए हैं. अगर श्रीलंकाई टीम अपना आखिरी मुकाबला बड़े अंतर से जीत जाती है तो उसके सेमीफाइनल में पहुंचने के कुछ चांस बन सकते हैं. श्रीलंका की इन उम्मीदों को बनाए रखने में  जितना हाथ बल्लेबाजों का था, उतना ही अकेले उस गेंदबाज का भी रहा, जिसने 2017 के बाद पहली बार गेंद को हाथ में पकड़ा और अपनी टीम को जीत दिला दी.

श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कैरेबियाई टीम के सामने जीत के लिए 339 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसके जवाब में वेस्टइंडीज 315 रन ही बना सकी. हालांकि एक समय मुकाबला वेस्टइंडीज के खाते में जाता हुआ नजर आ रहा था. लेकिन एंजेलो मैथ्यूज ने पूरा मैच ही पलट दिया.

जीत की ओर बढ़ रही थी कैरेबियाई टीम

विकेट गंवाने के बाद निराश लौटते निकोल्स पूरन.


47 ओवर तक वेस्टइंडीज ने सात विकेट के नुकसान पर 308 रन बना लिए थे और जीत के लिए 18 गेंदों पर 31 रन की जरूरत थी. भले ही लक्ष्य अधिक था, लेकिन निकोल्स पूरन जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे, उन्हें देखकर लग रहा था कि वो इन गेंदों में लक्ष्य हासिल कर लेंगे. निकोल्स 118 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे.

तभी अगले ओवर के लिए कप्तान ने एंजेलो मैथ्यूज को गेंद दी. मैथ्यूल ने इससे पहले दिसंबर 2017 में गेंदबाजी करवाई थी. वो अटैक पर आए और स्ट्राइक पर निकोल्स मौजूद थे. किसी को भी उम्मीद नहीं थी कि दो साल बाद भी मैथ्यूज की गेंदों पर पुरानी धार होगी. उन्होंने पहली ही गेंद पर निकोल्स का विकेट ले लिया. निकोल्स का विकेट गिरते ही कैरेबियाई टीम के हाथ से मैच निकल गया था.

 
Loading...

निकोल्स के बाद ओशाने थॉमस आए, जो कॉटरेल का ज्यादा साथ नहीं दे पाए और 49वें ओवर की तीसरी गेंद पर मलिंगा की गेंद पर एलीडब्ल्यू हो गए. मैथ्यूज ने वनडे क्रिकेट में पिछली बार गेंदबाजी भारत के खिलाफ विशाखापट्टनम वनडे में ​की थी. उन्होंने इस मैच में तीन ओवर में बिना किसी सफलता के 30 रन दिए थे.

ये भी पढ़ें- ये कमजोरी डुबा सकती है टीम इंडिया की नैया 

भारत को एक बार विश्व कप से बाहर कर चुका है बांग्लादेश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2019, 12:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...