होम /न्यूज /राष्ट्र /VIDEO: अंकिता की हत्या वाली रात रिजॉर्ट में क्या-कुछ हुआ? कर्मचारी ने खोला आरोपियों का सारा कच्चा चिट्ठा

VIDEO: अंकिता की हत्या वाली रात रिजॉर्ट में क्या-कुछ हुआ? कर्मचारी ने खोला आरोपियों का सारा कच्चा चिट्ठा

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में रिजॉर्ट के कर्मचारी मनवीर चौहान ने अंकिता भंडारी से हुई आखिरी बातचीत के बारे में बताया. (ANI)

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में रिजॉर्ट के कर्मचारी मनवीर चौहान ने अंकिता भंडारी से हुई आखिरी बातचीत के बारे में बताया. (ANI)

19 साल की अंकिता भंडारी एक रिजॉर्ट से पांच दिन पहले संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई थी, जिसके बाद शुक्रवार को चीला ...अधिक पढ़ें

हरिद्वार. उत्तराखंड के पौड़ी जिले के यमकेश्वर में 19 साल की अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर लोगों में खासा गुस्सा देखा जा रहा है. अंकिता एक रिजॉर्ट से पांच दिन पहले संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई थी, जिसके बाद शनिवार को चीला नहर से उसका शव मिला. पुलिस ने इस मामले में रिजॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य, रिजॉर्ट के मैनेजर सौरभ भास्कर और एसिस्टेंट मैनेजर अंकित गुप्ता को गिरफ्तार किया है.

पुलिस के मुताबिक, ये लोग अंकिता पर रिजार्ट में आने वाले मेहमानों के साथ यौन संबंध बनाने के लिए दबाव बना रहे थे, जिससे इनकार करने पर उन्होंने अंकिता की हत्या कर शव को चीला नहर में फेंक दिया. पुलकित हरिद्वार के बीजेपी नेता विनोद आर्य का बेटा है. हालांकि इस घटना में नाम आने के बाद बीजेपी ने उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया.

वहीं इस रिजॉर्ट के एक कर्मचारी ने मीडिया के सामने इस घटना वाली रात को रिजॉर्ट पर घटनाक्रम का खुलासा किया है, जिससे पुलकित आर्या समेत तीनों आरोपियों पर शिकंजा कस सकता है. समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में रिजॉर्ट के कर्मचारी मनवीर चौहान ने बताया कि ‘अंकिता ने शाम 6:15 बजे रोते हुए कॉल किया था और अपना बैग लाने को कहा था. जब रिजॉर्ट का स्टाफ बैग लेकर गया तो वो नहीं मिली. उन लोगों ने अंकिता को लेकर पूछा तो अंकित आर्या ने कोई जवाब नहीं दिया.’

मनवीर चौहान ने बताया, ‘फिर 8:30 बजे के करीब अंकित का कॉल आया कि चार लोगों के लिए खाना लगा देना. फिर 10:45 बजे वह मेरे पहुंचे और खाना लगाने के लिए कहते हैं. मैडम (अंकिता) के खाने के लिए पूछा तो अंकित ने बताया कि वो खुद उनके रूम में खाना पहुंचा देंगे. फिर सब सो गए. सुबह देखा तो मैडम का बैग, पैसा और सारा समान कमरे में था, लेकिन वह वहां नहीं थी.’

चौहान के मुताबिक, लोग कहने लगे कि वह भाग गई है, लेकिन हमें यकीन नहीं हुआ, भला कोई अपना पैसा क्यों छोड़ कर जाएगा. उसने बताया, ‘हम उनको खोजने लग गए. लोगों ने मुझे बताया की वह सौरभ और पुलकित के साथ गई थी.’

होटल के स्टाफ ने बताया कि मालिक (पुलकित आर्या) ने पहले भी उसके साथ कुछ गलत किया था, जिसके बाद उसने अपनी गलती के लिए माफी भी मांगी थी, जिसके बाद अंकिता ने मालिक को माफ कर दिया था.

अंकिता की लाश मिलने के बाद से उसके घर पौड़ी के डोभ श्रीकोट में मातम का माहौल है. अंकिता के घर मे अंकिता की मां और दादी का रो-रोकर बुरा हाल है. अंकिता की मां उसका नाम ले-लेकर बार-बार रो रही हैं और फिर बेहोश हो जा रही हैं. वहीं अंकिता के मामा ने शासन द्वारा फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाया जाने और आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी की सज़ा देने की मांग की.

Tags: Murder case, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें