लाइव टीवी

राम मंदिर ट्रस्ट से जुड़ा ऐलान आचार संहिता का उल्लंघन नहीं- चुनाव आयोग

News18Hindi
Updated: February 5, 2020, 1:15 PM IST
राम मंदिर ट्रस्ट से जुड़ा ऐलान आचार संहिता का उल्लंघन नहीं- चुनाव आयोग
प्रतीकात्मक तस्वीर.

लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा राम मंदिर ट्रस्ट (Ram Mandir Trust) के संबंध में घोषणा के बाद भाजपा के कई सदस्यों ने ‘जय श्रीराम’ के नारे भी लगाए. सत्ता पक्ष के सदस्यों ने मेजें थपथपाकर इसका स्वागत किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2020, 1:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव (Delhi assmebly election 2020) के लिए मतदान से 2 दिन पहले लोकसभा (Lok sabha) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा अयोध्या स्थित राम मंदिर (Ram Mandir Ayodhya) के निर्माण से जुड़े ट्रस्ट का ऐलान आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है. इस आशय का बयान भारत निर्वाचन आयोग (Election commission of India) ने दिया है. दरअसल, बुधवार को लोकसभा के बजट सत्र के दौरान पीएम मोदी ने सदन में ट्रस्ट से जुड़ी जानकारी दी और कहा कि यह सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए किया जा रहा है.

इसके बाद दिल्ली में सत्ताधारी दल आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने चुनाव आयोग का रुख किया. आप ने इस आशय की शिकायत की कि पीएम का ऐलान आचार संहिता का उल्लंघन है. हालांकि आप की शिकायत पर आयोग ने स्पष्ट किया है कि पीएम द्वारा किया गया ऐलान आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है.

लोकसभा में क्या कहा पीएम मोदी ने  
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सरकार ने अयोध्या कानून के तहत अधिग्रहीत 67.70 एकड़ भूमि राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को हस्तांतरित करने का फैसला किया है. बुधवार सुबह लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही प्रधानमंत्री मोदी ने सदन को बताया कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के आलोक में सुन्नी वक्फ बोर्ड को 5 एकड़ जमीन देने के संबंध में उत्तर प्रदेश सरकार से आग्रह किया गया था और उत्तर प्रदेश सरकार ने इसे मंजूरी दे दी है.

उन्होंने कहा कि उन्हें आज इस सदन को और पूरे देश को यह जानकारी देते हुए खुशी हो रही है. मंत्रिमंडल की बैठक में न्यायालय के आदेशों को ध्यान में रखते हुए महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं. भगवान राम के मंदिर के निर्माण और अन्य विषयों के लिए एक वृहद योजना तैयार की गयी है. प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के गठन का प्रस्ताव पारित किया गया.

यह भी पढ़ें :-

अयोध्या में मस्जिद के लिए यहां दी जाएगी जमीन, CM योगी की कैबिनेट ने दी मंजूरीगृह मंत्री ने कहा- राम मंदिर ट्रस्ट में होगे 15 सदस्य, 1 ट्रस्टी दलित समाज से

जानिए राममंदिर ट्रस्‍ट में कौन-कौन होंगे सदस्‍य और कैसा होगा मंदिर का नक्‍शा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 12:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर