लड़ाकू विमान राफेल ने यूं भरी फ्रांस से भारत के लिए उड़ान, देखिए वीडियो

भारत सरकार ने फ्रांस से 36 राफेल विमानों की खरीद की है, जिनमें से 21 विमान भारत को सौंपे जा चुके हैं.

भारत सरकार ने फ्रांस से 36 राफेल विमानों की खरीद की है, जिनमें से 21 विमान भारत को सौंपे जा चुके हैं.

Rafael India: ये तीनों लड़ाकू विमान फ्रांस से लगभग 7 हजार किमी की दूरी बिना रुके तय करके भारत पहुंचेंगे. यूएई के आसमान में ही तीनों विमानों में एयर टू एयर रिफ्यूलिंग की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 7:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद के बीच भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के हवाई जखीरे में फिर से इजाफा होने वाला है. राफेल लड़ाकू विमानों (Rafael fighters jet) की नई खेप आज भारत पहुंचने वाली है. ये तीनों लड़ाकू विमान फ्रांस से लगभग 7 हजार किमी की दूरी बिना रुके तय करके भारत पहुंचेंगे. यूएई के आसमान में ही तीनों विमानों में एयर टू एयर रिफ्यूलिंग की जाएगी, यानि उड़ान के दौरान आसमान में ही ईंधन भरा जाएगा.

तीन नए राफेल के भारत पहुंचने से पहले इन विमानों का उड़ान भरते हुए एक वीडियो सामने आया है. राफेल के उड़ान भरने के इस वीडियो को न्यूज एजेंसी ANI ने शेयर किया है. देखें VIDEO...



गोल्डन ऐरो स्क्वाड्रन का हिस्सा बने राफेल
भारत सरकार ने फ्रांस से 36 राफेल विमानों की खरीद की है, जिनमें से 21 विमान भारत को सौंपे जा चुके हैं. हालांकि अब तक 11 राफेल विमान ही भारत आए हैं. ये सभी अंबाला में मौजूद वायुसेना के गोल्डन ऐरो स्क्वाड्रन का हिस्सा हैं और आज जो तीन राफेल आएंगे उन्हें भी गोल्डन एरो स्क्वाड्रन में ही शामिल किया जाएगा.

ये भी पढ़ें:- पहाड़ों पर एयरफोर्स के Mi-17 और ALH Dhruv हेलिकॉप्टर क्यों भेजे गए?

इन सभी 14 राफेल विमानों को वायुसेना जरूरत के हिसाब से कहीं भी इस्तेमाल कर सकती है. लेकिन स्क्वाड्रन की पहली जिम्मेदारी देश के पश्चिम और उत्तर में चीन-पाकिस्तान से जुड़ी हवाई सीमा को महफूज रखना है.



भारतीय सेना के लिए गेम चेंजर हैं राफेल विमान

भारतीय वायुसेना के लिए राफेल लड़ाकू विमान गेम चेंजर माने जा रहे हैं. क्योंकि इनके आने से भारत को अपने पड़ोसियों के मुकाबले तकनीकी बढ़त भी मिली है और युद्ध की सूरत में एक ताकतवर लड़ाका भी. और राफेल ने इसका सबूत लद्दाख के आसमान में उड़ान भर के दे दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज