कश्मीर: मुठभेड़ में मारे गए तीनों आतंकी गजवत-उल-हिंद के सदस्य

अलकायदा की एक शाखा अंसार गजवत उल हिंद ने दावा किया है कि दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में मारे गए तीनों आतंकवादी अलकायदा के सदस्य थे.

News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 10:39 PM IST
कश्मीर: मुठभेड़ में मारे गए तीनों आतंकी गजवत-उल-हिंद के सदस्य
कश्मीर: मारे गए तीनों आतंकी थे गजवत-उल-हिंद के सदस्य (फाइल फोटो- आतंकी मोहम्मद तौफीक और रेहान खान )
News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 10:39 PM IST
अलकायदा की एक शाखा अंसार गजवत उल हिंद ने दावा किया है कि दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में मारे गए तीनों आतंकवादी अलकायदा के सदस्य थे. मारे गए आतंकवादियों में से एक मोहम्मद तौफीक 2017 में हैदराबाद से कश्मीर आ गया था और आतंकी संस्था से जुड़ गया था. अलकायदा की ओर से यह बयान अल नस्र बुलेटिन में छपा है. इसमें गजवत उल हिंद ने मारे गए तीनों आतंकियों के माता-पिता को उनकी औलाद की शहादत के लिए बधाई दी है.
अंसार गजवत-उल-हिंद की ओर से जारी प्रेस रिलीज



बता दें रविवार को जम्मू- कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए. सेना के एक अधिकारी ने बताया कि इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद रविवार देर रात अनंतनाग जिले के हकुरा इलाके में आतंकवाद विरोधी एक ऑपरेशन शुरू किया गया था. सुरक्षा बलों के साथ भोर से पहले हुई मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए थे.

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि मारे गए दो आतंकियों की पहचान श्रीनगर के रहने वाले ईसा फजली और अनंतनाग के कोकेरनाग के रहने वाले सैयद ओवैस के रूप में की गई. तीसरा आतंकी मोहम्मद तौफीक है जो हैदराबाद का निवासी है.

प्रवक्ता ने बताया, 'घटनास्थल से हथियार और गोला बारूद जिसमें एके- 47 रायफल, पिस्तौल, हथगोले आदि बरामद किए गए. अभियान के दौरान किसी आम नागरिक को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है.' उन्होंने कहा कि मारे गए आतंकियों में से एक शहर के सोउरा इलाके में पुलिस चौकी पर हाल में हुए हमले में शामिल था. उस घटना में पुलिस का एक कांस्टेबल मारा गया था.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->