Home /News /nation /

antibiotic research tie up with india will tackle worlds big health threat uk minister

एंटीबायोटिक का ज्यादा इस्तेमाल खतरनाक, भारत-ब्रिटेन मिलकर तलाशेंगे नया रास्ता-UK के मंत्री

ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद. (File Photo)

ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद. (File Photo)

India-Britain tie-up on antibiotic: भारत और ब्रिटेन एंटीबायोटिक दवाओं के अत्यधिक इस्तेमाल न हो इसके लिए नया रास्ता निकालने पर एक दूसरे का सहयोग करेंगे. ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने कहा दुनिया के लिए एंटीबायोटिक के अत्यधिक उपयोग को रोकना जरूरी है तथा एंटीमाइक्रोबियल प्रतिरोध (एएमआर) में भारत-ब्रिटेन की साझेदारी कोविड-19 महामारी के दौरान टीका साझेदारी के बाद अगला बड़ा कार्यक्षेत्र है.

अधिक पढ़ें ...

लंदन. ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने कहा कि दुनिया के लिए एंटीबायोटिक के अत्यधिक उपयोग को रोकना जरूरी है तथा एंटीमाइक्रोबियल प्रतिरोध (एएमआर) में भारत-ब्रिटेन की साझेदारी कोविड-19 महामारी के दौरान टीका साझेदारी के बाद अगला बड़ा कार्यक्षेत्र है. इंडिया ग्लोबल फोरम के यूके-इंडिया वीक सम्मेलन में उनकी यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब ब्रिटेन सरकार ने दवा प्रतिरोधी संक्रमणों से निपटने के लिए नये उपचार तरीके खोजने में और निवेश की घोषणा की है.

सरकार के ग्लोबल एएमआर इनोवेशन फंड से 45 लाख पाउंड का निवेश विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा चिह्नित दवा प्रतिरोधी संक्रमणों के उपचार के नये तरीके विकसित करने के लिए ग्लोबल एंटीबायोटिक रिसर्च एंड डवलपमेंट पार्टनरशिप में कारगर होगा.

मिलकर एंटीबायोटिक के उपयोग को रोकना चाहिए
जाविद ने कहा, भारत के साथ सहयोग का एक बड़ा क्षेत्र एंटीमाइक्रोबियल प्रतिरक्षा (एएमआर) का है. उन्होंने कहा, हमें मिलकर एंटीबायोटिक के उपयोग को रोकना चाहिए और नये एंटीबायोटिक्स के लिए अनुसंधान और विकास करना चाहिए. पाकिस्तानी मूल के ब्रिटिश नागरिक जाविद के पिता जालंधर में जन्मे थे. उन्होंने कहा कि उनके दिल में भारत की खास जगह है. उन्होंने पुष्टि की कि भारत-ब्रिटेन स्वास्थ्य संवाद भारत में इस साल के आखिर में होना है जो महामारी की वजह से स्थगित हो गया था.

कोविड टीका में सहयोग भारत के साथ सहयोग उत्कृष्ट
उन्होंने कहा, महामारी के माध्यम से हमारा टीका सहयोग उत्कृष्ट रहा. भारत और ब्रिटेन मिलकर काम कर रहे हैं और भविष्य के स्वास्थ्य संबंधी खतरों से निपटने के लिए बेहतर तरीके से तैयार होंगे. इंडिया ग्लोबल फोरम सम्मेलन में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने डिजिटल तरीके से भाग लिया और उन्होंने भी टीकों और दवाओं के क्षेत्र में भारत-ब्रिटेन सहयोग को रेखांकित किया. मांडविया ने कहा, कोविड के साथ स्वास्थ्य देखभाल और आपातकालीन संकट प्रबंधन पहले से मजबूत ब्रिटेन-भारत स्वास्थ्य साझेदारी में एक और महत्वपूर्ण सहयोग के क्षेत्र के रूप में उभरा है.

Tags: India, UK

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर