जम्मू-कश्मीर में 2 के अलावा शेष जिलों में उच्च गति की इंटरनेट सेवा अभी नहीं होगी शुरू

जम्मू-कश्मीर में 2 के अलावा शेष जिलों में उच्च गति की इंटरनेट सेवा अभी नहीं होगी शुरू
5 अगस्त 2019 से ही राज्य में 4g इंटरनेट बंद है.

आदेश (order) में कहा गया है कि कानून लागू करने वाली एजेंसियों (Law enforcement agencies) ने इस बात की पक्की सूचना दी है कि आतंकी गिरोह (Terrorist Group) भोले-भाले युवकों की भावनाएं भड़काने और उन्हें बहला-फुसलाकर आतंकवादी संगठनों में शामिल करने की निरंतर कोशिश कर रहे हैं.

  • Share this:
जम्मू. जम्मू कश्मीर प्रशासन (Jammu-Kashmir) ने मंगलवार को गांदरबल और उधमपुर जिलों (Ganderbal and Udhampur districts) को छोड़कर बाकी हिस्सों में सुरक्षा का हवाला देते हुए 4 जी मोबाइट इंटरनेट (4G Mobile Internet) सुविधा नहीं शुरू करने का निर्णय लिया. हालांकि, उसने कहा कि 16 अगस्त को कश्मीर (Kashmir) के गांदरबल और जम्मू के उधमपुर जिलों में प्रायोगिक आधार पर बहाल की गयी उच्च गति की इंटरनेट (High Speed Internet) सुविधा इस माह के आखिर तक जारी रहेगी क्योंकि उसके दुरुपयोग (misuse) की कोई खबर नहीं आयी है.

मंगलवार शाम को जारी आदेश में गृह विभाग (Home Department) में प्रधान सचिव शालीन काबरा ने बताया कि स्थिति की ताजा समीक्षा के बाद यह निर्णय लिया गया है. आदेश (order) में कहा गया है कि कानून लागू करने वाली एजेंसियों (Law enforcement agencies) ने इस बात की पक्की सूचना दी है कि आतंकी गिरोह (Terrorist Group) भोले-भाले युवकों की भावनाएं भड़काने और उन्हें बहला-फुसलाकर आतंकवादी संगठनों में शामिल करने की निरंतर कोशिश कर रहे हैं और ‘‘अव्यवस्था फैलाने के लिए उच्च गति की डाटा सेवाओं (High Speed data services) के संभावित दुरूपयोग का भी संकेत मिला है.’’

आतंकवादियों को घुसपैठ में मदद करने के लिए करने की आशंका
एजेंसियों ने यह भी आशंका प्रकट की कि उच्च गति की डाटा सेवाओं का दुरुपयोग आतंकवादियों को घुसपैठ में मदद करने के लिए किया जा सकता है. आदेश के अनुसार गांदरबल और उधमपुर को छोड़कर बाकी 18 जिलों में 2 जी इंटरनेट सुविधा होगी.




यह भी पढ़ें: चीनी सेना ने माना, अरुणाचल से लापता 5 लोग उसकी सीमा में मिले- किरेन रिजिजू

केंद्र सरकार द्वारा पिछले साल पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को समाप्त करने और उसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने की घोषणा करने के बाद जम्मू कश्मीर में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गयी थी. हालांकि, इस साल 25 जनवरी को 2 जी मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज