जून के दूसरे हफ्ते से अपोलो अस्पतालों में मिलने लगेगी रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-V

स्‍पूतनिक. (सांकेतिक तस्वीर)

स्‍पूतनिक. (सांकेतिक तस्वीर)

कंपनी की एक्जिक्यूटिव वाइस चेयरपर्सन शोभना कमिनेनी (Shobana Kamineni) ने कहा है-हमारे अस्पतालों में अब तक वैक्सीन दस लाख से ज्यादा डोज लगाए गए हैं. इनमें फ्रंटलाइन वर्कर्स, हाई रिस्क ग्रुप और कॉरपोरेट कर्मचारियों को प्राथमिकता दी गई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-V (Sputnik-V) जून महीने के दूसरे सप्ताह से देशभर के अपोलो अस्पतालों (Apollo Hospitals) में मिलने लगेगी. इस बात की जानकारी अपोलो ग्रुप ने बृहस्पतिवार को दी है. कंपनी की एक्जिक्यूटिव वाइस चेयरपर्सन शोभना कमिनेनी ने कहा है-हमारे अस्पतालों में अब तक वैक्सीन दस लाख से ज्यादा डोज लगाए गए हैं. इनमें फ्रंटलाइन वर्कर्स, हाई रिस्क ग्रुप और कॉरपोरेट कर्मचारियों को प्राथमिकता दी गई है.

वैक्सीनेशन कार्यक्रम को तेज करने संबंधी जानकारी देते हुए उन्होंने बताया है-जून महीने में हम हर सप्ताह दस लाख वैक्सीन डोज लगाएं और इसे जुलाई में दोगुना कर दिया जाएगा. हम सितंबर तक 2 करोड़ वैक्सीन डोज लगाने के ट्रैक पर हैं.

केंद्र और राज्य सरकारों समेत वैक्सीन उत्पादकों को दिया धन्यवाद

प्राइवेट सेक्टर के सबसे बड़े वैक्सीनेटर अपोलो ग्रुप का कहना है कि वो वैक्सीनेशन कार्यक्रम में केंद्र और राज्य सरकार का सहयोग करता रहेगा. शोभना कमिनेनी ने केंद्र और राज्य सरकारों के अलावा कोवैक्सीन और कोविशील्ड के उत्पादकों को भी सहयोग के लिए धन्यवाद दिया है.
डॉ. रेड्डी ने भारत में किया है ट्रायल

भारत में स्पूतनिक-V वैक्सीन का ट्रायल फार्मा कंपनी डॉ. रेड्डी ने किया है. 1 मई से इस वैक्सीन को वैक्सीनेशन कार्यक्रम में शामिल किया गया है. इस वैक्सीन का भारत में बड़े स्तर पर उत्पादन किया जाना है.

पैनेसिया बायोटेक ने भी शुरू किया उत्पादन



हाल में जानकारी आई थी कि एक और कंपनी पैनेसिया बायोटेक ने भी इसका उत्पादन शुरू कर दिया है. 24 मई को आए एक संयुक्त बयान में रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड और भारतीय दवा उत्पादक कंपनी पैनेसिया बायोटेक ने इसकी जानकारी दी थी. बयान में यह भी कहा गया था कि इन गर्मियों में ही इस वैक्सीन का फुल स्केल प्रोडक्शन शुरू हो जाएगा. पैनेसिया बायोटेक की उत्पादन इकाईयां जीएमपी मानकों का पालन करती है और उसको डब्ल्यूएचओ की पूर्व मंजूरी प्राप्त है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज