• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • तो क्या जल्द ही देश में बढ़ने वाले हैं कोरोना वायरस के मामले? स्वास्थ्य मंत्रालय ने फिर चेताया

तो क्या जल्द ही देश में बढ़ने वाले हैं कोरोना वायरस के मामले? स्वास्थ्य मंत्रालय ने फिर चेताया

क्या आज के युवा आदर्शवाद और वास्तविकता की तुलना में देश में अभी 62 ऐसे जिले हैं जहां हर दिन 100 से अधिक कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं.(प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-PTI)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने चेतावनी देते हुए कहा कि कोरोना महामारी (Corona Pandemic) का खतरा अभी टला नहीं है क्योंकि वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामलों में तेजी देखी जा रही है और मनुष्य थक सकता है लेकिन वायरस कभी नहीं थक सकता. उन्होंने मानसून के मौसम में इंफेक्शन से बचने के लिए सावधानी बरतने की अपील की है.

  • Share this:

    नई दिल्ली: देश को एक बार फिर से कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप का सामना कर सकता है. इसको लेकर मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) ने भी चिंता व्यक्त की और लोगों को चेताया भी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोविड 19 (Covid19 Cases) के मामलों में गिरावट आ रही है, लेकिन अब यह एक चिंता का विषय बन गया है. मंत्रालय ने लोगों से कोरोना काल में ढिलाई नहीं बरतने की अपील की है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आशंका व्यक्त की है कि मानसून के मौसम में समस्या बढ़ सकती है.

    पत्रकारों से बात करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना मामलों के साप्ताहिक औसत में गिरावट आई है लेकिन अगर हम कोरोना मामलों में गिरावट की दर देखें तो यह पहले से कम हो गई है. इसका साफ मतलब है कि कोरोना केसेस में गिरावट अब पहले की अपेक्षा नहीं है. यह काफी चिंता का विषय है. उन्होंने कहा कि इस संबंध में राज्यों के साथ भी बातचीत की जा रही है.

    22 जिलों में कोरोना मामलों में वृद्धि
    नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने कहा कि लगभग 22 जिले जिनमें केरल सात जिले, मणिपुर के पांच जिले, मेघालय के तीन जिले शामिल हैं जहां पिछले चार हफ्तों में हर दिन कोरोना वायरस मामलों में तेजी आई है. यह पूरे देश के लिए एक बड़ी समस्या है. उन्होंने कहा कि किसी भी तरह से वायरस के व्यवहार को हल्के में नहीं लिया जा सकता.

    सचिव अग्रवाल ने चेतावनी देते हुए कहा कि महामारी का खतरा अभी टला नहीं है क्योंकि वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामलों में तेजी देखी जा रही है. उन्होंने कहा कि मनुष्य थक सकता है लेकिन वायरस कभी नहीं थक सकता. उन्होंने मानसून के मौसम में इंफेक्शन से बचने के लिए सावधानी बरतने की अपील की है.

    अगस्त में उपलब्ध रहेगी वैक्सीन की 15 करोड़ डोज
    डॉ. वीके पॉल ने कहा कि पूर्वोत्तर राज्यों में कोविड19 की पॉजिटिव दर 19 प्रतिशत से अधिक है. डॉ. पॉल के मुताबिक अगस्त में भारत के पास वैक्सीन की 15 करोड़ डोज उपलब्ध रहेगी, जिसके बाद देश में हर दिन 50 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा सकेगी.

    लव अग्रवाल के अनुसार देश में अभी 62 ऐसे जिले हैं जहां हर दिन 100 से अधिक कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों की मानें तो केरल मौजूदा समय से सबसे ज्यादा लापरवाही बरती जा रही है और इसी का नतीजा है कि देश में कुल कोरोना के मामलों के 50 प्रतिशत केस केरल से सामने आ रहे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज