होम /न्यूज /राष्ट्र /Arki Himachal pradesh Election Result: अर्की सीट पर कांग्रेस का कब्जा, 42 फीसदी से अधिक वोट मिले

Arki Himachal pradesh Election Result: अर्की सीट पर कांग्रेस का कब्जा, 42 फीसदी से अधिक वोट मिले

अर्की विधानसभा सीट चुनाव 2022 (Arki Vidhansabha Election) की काउंट‍िंग कुछ ही देर में शुरू होने वाली है. (NEWS 18 HINDI)

अर्की विधानसभा सीट चुनाव 2022 (Arki Vidhansabha Election) की काउंट‍िंग कुछ ही देर में शुरू होने वाली है. (NEWS 18 HINDI)

Arki Assembly Election Result 2022: ह‍िमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की अर्की विधानसभा सीट चुनाव 2022 (Arki Vidhansabh ...अधिक पढ़ें

Arki Assembly Seat Result 2022 : ह‍िमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की अर्की विधानसभा सीट चुनाव 2022 (Arki Vidhansabha Election) की काउंट‍िंग पूरी हो गई है. यहां से कांग्रेस प्रत्याशी संजय अवस्थी 4822 वोटों से जीत गए हैं. उन्हें कुल 29804 मत मिले. वहीं, निर्दलीय उम्मीदवार राजेंद्र ने 25547 वोट हासिल किए. बीजेपी के उम्मीदवार गोविंद राम 13031 वोट पाकर तीसरे नंबर पर रहे. वोट प्रतिशत की बात करें, तो संजय को अवस्थी  42.02 फीसदी और निर्दलीय उम्मीदवार को 35.46 प्रतिशत वोट मिले. वहीं, भाजपा उम्मीदवार 18.28 प्रतिशत वोट ही हासिल कर सके.बता दें कि अर्की व‍िधानसभा सीट पर 12 नवंबर को वोट डाले गए थे. अर्की विधानसभा सीट (Arki Assembly Seat) बेहद ही खास सीटों में मानी जाती है.

इस सीट से ह‍िमाचल प्रदेश के सीएम रहे वीरभद्र स‍िंह (CM Virbhadra Singh) ने 2017 का चुनाव जीता था. अगर प्रत्याशियों की बात करें तो इस बार भी बीजेपी (BJP) ने दो बार के व‍िधायक रहे गोव‍िंद राम शर्मा (Govind Ram Sharma) को मैदान में उतारा. वहीं, कांग्रेस (Congress) ने संजय अवस्‍थी (Sanjay Awasthi) पर ही विश्वास जताया था. आम आदमी पार्टी (AAP) ने जीत राम शर्मा (Jeet Ram Sharma) को चुनावी दंगल में मौका द‍िया था.

बता दें कि ह‍िमाचल प्रदेश के सीएम रहे वीरभद्र स‍िंह के जुलाई 2021 में न‍िधन के बाद यह सीट र‍िक्‍त हो गई थी. उप चुनाव में कांग्रेस के संजय अवस्‍थी ने भाजपा के रत्तन सिंह पाली को 3,219 मतों के मात देकर जीत दर्ज की थी. ह‍िमाचल के सोलन ज‍िले और श‍िमला (एससी) लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाली अर्की व‍िधानसभा सीट पर ज्‍यादातर कांग्रेस और भाजपा का ही वर्चस्‍व रहा है.

पूर्व सीएम वीरभद्र स‍िंह लड़ते थे चुनाव
हालांक‍ि, कई चुनाव में कांग्रेस और भाजपा ने दो-दो चुनाव भी लगातार जीते हैं. साल 2017 के चुनाव में कांग्रेस के वीरभद्र सिंह को 34,499 वोट यानी 53.73% मत प्राप्‍त हुए थे, जबक‍ि भाजपा के रत्न सिंह पाल ने दूसरे स्थान पर रहते हुए 28,448 मत प्राप्‍त क‍िए थे.

बीजेपी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर
भाजपा के गोविंद राम शर्मा ने 2012 और 2007 के व‍िधानसभा चुनाव लगातार जीते थे. 2012 में भाजपा के रत्‍नस‍िंह ने कांग्रेस के संजय को मात दी थी. वहीं, 2007 के चुनाव में भाजपा के गोविंद राम ने न‍िर्दलीय प्रत्याशी धरम पाल ठाकुर को हराकर इस सीट पर कब्‍जा क‍िया था.

इस सीट पर 1993 से 2003 तक के तीनों चुनावों को कांग्रेस के धरम पाल ठाकुर भाजपा को मात देकर जीतते आए हैं. वहीं 1990 में भाजपा के नागिन चंदर पाल, 1985 में कांग्रेस के हीरा सिंह पाल, 1982 में भाजपा के नागिन चंदर पाल ने यह सीट जीती थी. वहीं, 1977 में नागिन चंद्र पल्ल ने जेएनपी के ट‍िकट पर भी यह चुनाव जीता था. इससे पहले 1972 में एलआरपी के हीरा सिंह पाल ने भी कांग्रेस का हराकर चुनाव जीता था.

वीरभद्र स‍िंह ने जीता था 2017 का चुनाव
वीरभद्र स‍िंह हिमाचल प्रदेश के छह बार मुख्यमंत्री रहे. उनको कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में ग‍िना जाता रहा है. केंद्रीय मंत्री के रूप में भी अपनी भूम‍िका न‍िभा चुके हैं. सन 1983 में वह जुब्बल कोटखाई सीट से उपचुनाव जीते थे. इसके बाद सन 1985 के विधानसभा चुनावों में वीरभद्र सिंह ने जीत हासिल की थी. द‍िलचस्‍प बात यह है क‍ि अपने राजनीत‍िक कार्यकाल में वीरभद्र सिंह ने 16 चुनाव लड़े थे ज‍िनमें से 14 बार जीत हास‍िल की थी. स‍िर्फ एक बार विधानसभा और एक बार लोकसभा चुनाव में वीरभद्र सिंह को श‍िकस्‍त म‍िली थी. 1977 में आपातकाल के दौरान कांग्रेस विरोधी लहर में वीरभद्र सिंह भी हार गए थे.

Tags: Assembly election 2022, Assembly elections, Himachal pradesh, Shimla News

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें