Home /News /nation /

LAC विवाद पर चीन से बात जारी, लेकिन खतरा टला नहीं, सेना प्रमुख नरवणे बोले- हमारी स्थिति मजबूत

LAC विवाद पर चीन से बात जारी, लेकिन खतरा टला नहीं, सेना प्रमुख नरवणे बोले- हमारी स्थिति मजबूत

लद्दाख में भारतीय सेना और चीनी सैनिक (सांकेतिक तस्वीर)

लद्दाख में भारतीय सेना और चीनी सैनिक (सांकेतिक तस्वीर)

Army Chief M M Naravane react on LAC dispute with China: पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच नियत्रंण रेखा पर जारी गतिरोध को लेकर सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा कि भारत और चीन बातचीत के जरिए डिसइंगेजमेंट की प्रक्रिया पर काम कर रहे हैं और इसके सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं, लेकिन फिर भी खतरा बरकरार है. चीन और पाकिस्तान की ओर से मिलने वाली चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए सैन्य बलों को पुनर्गठित और संतुलन बनाए रखने से जुड़े उपाय किए हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन (India-China LAC Dispute) के बीच नियत्रंण रेखा पर जारी गतिरोध को लेकर सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे (Army Chief MM Naravane) ने अहम बयान दिया है. उन्होंने कहा कि भारत और चीन बातचीत के जरिए डिसइंगेजमेंट की प्रक्रिया पर काम कर रहे हैं और इसके सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं, लेकिन फिर भी खतरा बरकरार है. आर्मी डे के मौके पर बुधवार को आर्मी चीफ एमएम नवरणे ने यह बात कही. वहीं दोनों देशों के बीच आज 14वें दौर की कमांडर लेवल की वार्ता हुई.

एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने कहा कि, 14वें दौर की कॉर्प्स कमांडर लेवल की वार्ता जारी है और मुझे उम्मीद है कि आने वाले दिनों में हमें बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे. लेकिन अभी आंशिक रूप से विवादित क्षेत्रों से सेनाओं के पीछे हटने की प्रक्रिया पूरी हुई है, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि खतरा टल गया है. उन्होंने कहा कि पूर्वी लद्दाख में यथास्थिति में एकतरफा बदलाव के चीन के प्रयासों पर भारतीय सेना की प्रतिक्रिया बेहद मजबूत रही.

यह भी पढ़ें: नागालैंड किलिंग के दोषियों को मिलेगी सजा? आर्मी चीफ नरवणे बोले- जांच जारी, उचित कार्रवाई करेंगे

भारतीय सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने कहा, ‘चीन और पाकिस्तान की ओर से मिलने वाली चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए सैन्य बलों को पुनर्गठित और संतुलन बनाए रखने से जुड़े उपाय किए हैं. हर खतरे का जवाब देने के लिए उत्तरी सीमाओं पर अतिरिक्त सैन्य बल को तैनात किया गया है. इसके अलावा पश्चिमी सीमा पर भी हर प्रकार की चुनौती से निपटने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं.’

देश की उत्तरी सीमाओं पर भारतीय सेना उच्च स्तर की ऑपरेशनल तैयारियों में लगी हुई है. वहीं इस क्षेत्र में सीमा विवाद को लेकर चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के साथ बातचीत जारी है. दोनों देशों के संयुक्त प्रयासों के चलते कुछ इलाकों में डिसइंगेजमेंट की प्रक्रिया पूरी हो गई है. सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने कहा कि पूर्वी लद्दाख समेत पूरे नॉर्दर्न फ्रंट में फोर्स, इंफ्रास्ट्रक्चर, हथियारों की क्षमता बढ़ाई गई है.

Tags: Army Chief, China, India-China LAC dispute

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर