सेनाध्यक्ष रावत ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, आतंकियों की मदद पर होगी कार्रवाई

रावत ने कहा कि अगर पाकिस्तान की सेना लगातार आतंकियों की मदद करती रही तो भारत किसी भी कार्रवाई से पीछे नहीं हटेगा.

News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 6:43 AM IST
सेनाध्यक्ष रावत ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, आतंकियों की मदद पर होगी कार्रवाई
रावत ने कहा कि अगर पाकिस्तान की सेना लगातार आतंकियों की मदद करती रही तो भारत किसी भी कार्रवाई से पीछे नहीं हटेगा.
News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 6:43 AM IST
थल सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी है. उन्होंने स्पष्ट कहा है कि अगर पाकिस्तान, आतंकियों की मदद करेगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. करगिल युद्ध के 20 साल पूरे होने के मौके पर बिपिन रावत, जम्मू और कश्मीर के द्रास सेक्टर में ग्राउंड जीरो पर पहुंचे और जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

आज तक की एक रिपोर्ट के अनुसार रावत ने कहा कि अगर पाकिस्तान की सेना लगातार आतंकियों की मदद करती रही तो भारत किसी भी कार्रवाई से पीछे नहीं हटेगा.

रावत ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक और बालाकोट एयर स्ट्राइक के जरिए हमने यह संदेश दिया था कि अगर पाकिस्तान अगर अपनी आदतों में बदलाव नहीं करता है तो हम हवाई ताकत का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें:  पाक ने घुसपैठ की तो शव वापस लेने को रहे तैयार: बिपिन रावत

हरकत से बाज आए पाक

जनरल रावत ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि वह ऐसी किसी भी हरकत से बाज आएं. अगर हमारे खिलाफ कोई भी कार्रवाई हुई तो हम उसका तगड़ा जवाब देंगे.

रावत ने कहा कि अब हम करगिल जैसी कार्रवाई नहीं होने देंगे. उन्होंने कहा कि पहले तो ऐसा कुछ होगा नहीं और अगर पाकिस्तान ऐसा कुछ करता है तो हम उसके खिलाफ हर ताकत का इस्तेमाल करेंगे.
Loading...

बता दें साल 1999 में भारत और पाकिस्तान के बीच करगिल युद्ध लड़ा गया था. पाकिस्तानी सेना ने नियंत्रण रेखा को पार कर भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की थी तथा रणनीतिक तौर पर अहम चौटियों पर कब्जा कर लिया था. इसके बाद भारत ने ‘ऑपरेशन विजय’ चला कर उन्हें खदेड़ दिया था.

यह भी पढ़ें:  ट्रेनिंग के लिए जम्मू-कश्मीर जाएंगे एम एस धोनी!

रावत ने यह भी कहा था-

सेना प्रमुख ने पाकिस्तान को किसी भी दुस्साहस का प्रयास नहीं करने की चेतावनी देते हुए कहा कि सीमा पर हमारे सैनिकों की सतर्कता के कारण घुसपैठ में भारी कमी आई है. पाकिस्तान जानता है कि अगर वह घुसपैठ करेगा, तो उसे अपने लोगों के शव ले जाने के लिए तैयार रहना होगा. सेना प्रमुख ने कहा कि पुलवामा में उस दिन क्या हुआ था इसकी जानकारी इंटेलीजेंस से हमें मिल चुकी है. हम हर तरह की सच्चाई से वाकिफ हैं. इसलिए हम किसी भी तरह के दिए जा रहे बयान के बहकावे में नहीं आएंगे.

गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि फरवरी में पुलवामा हमले में पाकिस्तान का नाम बेवजह घसीटा जा रहा है. इमरान खान ने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह हमला स्थानीय कश्मीरियों और जैश-ए-मोहम्मद ने किया जो भारत से संचालित होता है. इमरान खान ने कहा कि पुलवामा हमले से पहले ही हमारी सरकार ने तय कर लिया था कि हम पाकिस्तान की सरजमीं से सभी आतंकवादी समूहों को खत्म कर देंगे.

यह भी पढ़ें:   कौन होगा देश का अगला आर्मी चीफ? इन नामों पर चर्चा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2019, 6:40 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...