कश्‍मीर घाटी में बकरीद मनाने के लिए पाबंदियों में दी जाएगी ढील!

सूत्रों ने News18 को बताया, सरकार अगले सप्‍ताह कश्‍मीर घाटी (Kashmir Valley) के लोगों को छूट देने की तैयारियां शुरू कर चुकी है. बता दें कि 12 अगस्‍त को पूरे देश में बकरीद (Bakrid) मनाई जाएगी.

News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 9:42 PM IST
कश्‍मीर घाटी में बकरीद मनाने के लिए पाबंदियों में दी जाएगी ढील!
स्‍थानीय प्रशासन ने बकरीद पर पाबंदियां हटाने को लेकर तैयारियां भी शुरू कर दी हैं.
News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 9:42 PM IST
अनुच्‍छेद-370 (Article-370) हटाने से पहले ही जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu-Kashmir) में शांति व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए सरकार ने कई तरह की पाबंदियां लगा दी थीं, जो अब भी लागू हैं. अब सरकार कश्‍मीर घाटी (Kashmir Valley) के लोगों को बकरीद (Bakrid) मनाने के लिए पाबंदियों में ढील देने पर विचार कर रही है. सूत्रों ने News18 को बताया कि स्‍थानीय प्रशासन ने पाबंदियां हटाने को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं. एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि स्‍थानीय प्रशासन काफी संवेदनशील है, लेकिन लोगों के लिए ईद (Eid) की अहमियत को ध्‍यान में रखते हुए योजना बनाई जा रही है.

डोभाल हर घंटे कर रहे हैं सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा
अधिकारी ने कहा कि कोई भी कदम उठाते समय लोगों की सुरक्षा और ईद के त्‍योहार को ध्‍यान में रखा जाएगा. पूरे देश में 12 अगस्‍त को बकरीद मनाई जाएगी. शीर्ष सूत्रों के मुताबिक, राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल (Ajit Doval) हर घंटे सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा कर रहे हैं. रविवार को पाबंदियां लगाने के बाद से अब तक कश्‍मीर घाटी के कुछ इलाकों में मामूली घटनाएं हुई हैं.

संसद ने मंगलवार को अनुच्‍छेद-370 हटाने पर लगाई थी मुहर

गृह मंत्री अमित शह ने सोमवार को राज्‍यसभा में अनुच्‍छेद-370 को हटाने के लिए एक संकल्‍प पत्र पेश किया. साथ ही जम्‍मू-कश्‍मीर को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के लिए एक विधेयक भी पेश किया. राज्‍यसभा में लंबी बहस के बाद अनुच्‍छेद-370 को हटाकर राज्‍य के पुनर्गठन को मंजूरी दे दी गई. इसके अगले दिन मंगलवार को लोकसभा में भी इसे मंजूरी देते हुए सूबे के पुनर्गठन पर मुहर लगा दी गई.

आज शोपियां पहुंचकर लोगों से मिले राष्‍ट्रीय सरक्षा सलाहकार
डोभाल ने सोमवार को ही कश्‍मीर घाटी पहुंचकर सुरक्षा व्‍यवस्‍था की कमान अपने हाथ में लेते हुए हालात की निगरानी शुरू कर दी. वहीं, बुधवार को वह वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ शोपियां पहुंच गए, जहां उन्‍होंने सुरक्षा इंतजामों का जायजा लिया. इस दौरान उन्‍होंने आम लोगों के लिए खाने-पीने की चीजों की बिना रुकावट आपूर्ति सुनिश्चित करने समेत तमाम रोजमर्रा की चीजों के बारे में पड़ताल की. सूत्रों के मुताबिक, उन्‍होंने अधिकारियों से कहा कि आम लोगों को किसी भी चीज की कमी नहीं होनी चाहिए. लोगों को प्राथमिकता के आधार पर जरूरी चीजें मुहैया कराने को भी कहा.
Loading...

ये भी पढ़ें: 

370 हटने के बाद कश्मीर पहुंचे डोभाल, सड़क पर लोगों के साथ खाया खाना; कहा- सब कुछ अच्छा होगा

जानिए लद्दाख कैसे बना था भारत और कश्मीर का हिस्सा

 
First published: August 7, 2019, 7:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...