अपना शहर चुनें

States

माल्या पर फैसले के बाद जेटली ने कहा- ये देश के लिए गौरव का दिन

अरुण जेटली (फाइल)
अरुण जेटली (फाइल)

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 10, 2018, 9:35 PM IST
  • Share this:
लंदन की अदालत ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण की मंजूरी दे दी है. कोर्ट के फैसले के बाद केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली विजय माल्या के प्रत्यर्पण की मंजूरी मिलने पर खुशी जाहिर की है. उन्होंने कहा कि कानून तोड़ने वाले इस व्यक्ति ने संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार में फायदा कमाया और अब उसे राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार कटघरे में खड़ा करा रही है.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ट्वीट किया, 'आज भारत के लिए गौरव का दिन है. भारत से धोखाधड़ी करने वाला कोई भी सजा से नहीं बचेगा. एक डिफॉल्ट को यूपीए सरकार के दौरान फायदा पहुंचाया गया था. हालांकि, एनडीए सरकार उसको वापस ला रही है.'

प्रत्यर्पण पर फैसला आने के बाद बोले माल्या- लोन सेटलमेंट के लिए अब भी हूं तैयार



माल्या पीएनबी समेत देश के कई बड़े बैंकों का 9000 हजार करोड़ रुपये लेकर फरार हो गए थे. लंदन कोर्ट का फैसला आने के बाद विजय माल्या ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'जज ने जो कहा है, वो आप सभी ने सुना है. जज ने मुझे बताया कि यह लंबी प्रक्रिया है. जज ने यह भी बताया कि मैं इस फैसले के खिलाफ अपील कर सकता हूं.' कोर्ट के फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए माल्या ने कहा, 'इसको लेकर कोई हैरानी नहीं है. मेरी लीगल टीम डिस्कस करेगी और आगे की कार्रवाई को लेकर निर्णय लेगी. यह एक लंबी प्रक्रिया है.'
कब तक भारत लाया जा सकता है माल्या?
विजय माल्या को जनवरी के आखिरी तक भारत वापस लाया जा सकता है. कोर्ट ने माल्या को ऊपरी अदालत में अपील करने के लिए 14 दिन का समय दिया है. इससे सीबीआई का मनोबल भी बढ़ेगा. इससे जांच एजेंसियां अपने काम को लेकर फ्री महसूस करती हैं. पहले की तरह जांच एजेंसियों के क्रियाकलापों में कोई रोड़ा नहीं है.

कितने कर्जदार हैं माल्या?
विजय माल्या पर बैंकों का लगभग 9400 करोड़ रुपए बकाया है. उनके खिलाफ 17 बैंकों के कंसोर्शियम ने सुप्रीम कोर्ट में पिटीशन दाखिल की थी. माल्या की तरफ से कहा गया है कि तेल के रेट बढ़ने, ज्यादा टैक्स और खराब इंजन के चलते उनकी किंगफिशर एयरलाइन्स को 6,107 करोड़ का घाटा उठाना पड़ा था. हालांकि वह अभी करीब 1800 करोड़ रुपए के विलफुल डिफॉल्टर हैं. बाकी बैंक अब भी माल्या के खिलाफ कोर्ट नहीं गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज