लाइव टीवी

ये हैं वो 10 गारंटी जिनके कारण तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बनेंगे अरविंद केजरीवाल

News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 7:04 PM IST
ये हैं वो 10 गारंटी जिनके कारण तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बनेंगे अरविंद केजरीवाल
आम आदमी पार्टी दिल्ली में तीसरी बार सरकार बनाने जा रही है. (News18 Creative by Anand)

दिल्ली (Delhi) का सीएम बनने के बाद अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को जनता से किए अपने उन वादों को सबसे पहले पूरा करना होगा जिन पर विश्वास कर उन्हें एक बार फिस से कुर्सी पर बैठाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 7:04 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) में आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) तीसरी बार सरकार बनाने जा रही है. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनावों में भारी बहुमत से जीत दर्ज की है. खबर है कि अरविंद केजरीवाल 14 फरवरी को मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं. दिल्ली का सीएम बनने के बाद केजरीवाल को जनता से किए अपने उन वादों को सबसे पहले पूरा करना होगा जिन पर विश्वास कर उन्हें एक बार फिस से कुर्सी पर बैठाया गया है.

1. अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से 24 घंटे बिजली देने का भी वादा किया है. वहीं 200 यूनिट मुफ्त बिजली भी लोगों को मिलती रहेगी. अब केजरीवाल सरकार के लिए दिल्ली को तारों के जंजाल से मुक्त करना और अंडरग्राउंड बिजली पहुंचाना बड़ी चुनौती होगी.



2. दिल्ली चुनाव से पहले गंदे पानी का मुद्दा भी काफी चर्चा में रहा था. केजरीवाल ने हर घर में 24 घंटे शुद्ध पीने का पानी देने की सुविधा और 20 हजार लीटर मुफ्त पानी देने का भी वादा किया था.



3. शिक्षा के मुद्दे को चुनाव में प्रमुखता से उठाने वाली आम आदमी पार्टी ने हर बच्चे को विश्वस्तरीय शिक्षा देने की गांरटी दी थी.

4. स्वास्थ्य का मुद्दा भी इक चुनावों के केंद्र में रहा, केजरीवाल के वादे के अनुसार हर परिवार को आधुनिक अस्पतालों और मोहल्ला क्लीनिक के जरिए इलाज की समुचित सुविधा दी जाएगी.



5. मुफ्त बस यात्रा को लेकर बीजेपी के निशाने पर रही आप ने महिलाओं के साथ छात्रों को भी मुफ्त बस यात्रा की सुविधा देने की बात कही थी. वहीं केजरीवाल को दिल्ली वालों को 11 हजार से ज्यादा बसें और 500 किमी से ज्यादा लंबी मेट्रो लाइन भी उपलब्ध कराना होगा.



6. दिल्ली में सबसे बड़ी समस्या प्रदूषण की है. आम आदमी पार्टी ने अपने 10 वादों में वायु प्रदूषण के स्तर को तीन गुना घटाने का लक्ष्य तय किया था. घोषणा पत्र की मानें तो दिल्ली में 2 करोड़ से ज्यादा पेड़ लगाकर ग्रीन दिल्ली बनाई जाएगी. वहीं यमुना को भी साफ किया जाएगा.



7. आम आदमी पार्टी ने दिल्ली को कूड़े और मलबे के ढेर से मुक्त करने का वादा भी किया था.



8. विधानसभा चुनाव के प्रचार में महिलाओं की सुरक्षा का मुद्दा काफी ज्यादा चर्चा में रहा था जिनमें सीसीटीवी और स्ट्रीट लाइटों को लेकर सवाल खड़े हुए थे. दिल्ली सरकार को सीसीटीवी कैमरा, स्ट्रीट लाइट और बस मार्शल के साथ साथ मोहल्ला मार्शल तैनात करने का भी वादा किया था.



9. दिल्ली की कच्ची कॉलोनी के मुद्दे को भाजपा ने प्रचार में खूब भुनाया. केजरीवाल की गारंटी के अनुसार अब इन कच्ची कॉलोनियों में रोड, पीने का पानी, सीवर, मोहल्ला क्लीनिक और सीसीटीवी जैसी मूलभूल सुविधाएं उपलब्ध करानी होंगी.



10. केजरीवाल को अपनी गारंटी के मुताबिक दिल्ली के हर झुग्गीवासी को पक्का मकान भी मुहैया कराना होगा.



ये भी पढ़ें-
दिल्‍ली में खत्‍म हो रही बसपा की सियासी जमीन, अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन

दिल्ली चुनाव में चंद इलाकों तक सिमट कर रह गई 7 सांसदों वाली BJP

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 7:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर