Home /News /nation /

ओमिक्रॉन का बढ़ता खतरा, अब कपड़े के मास्क से नहीं चलेगा काम!, हेल्थ एक्सपर्ट्स की ALERT

ओमिक्रॉन का बढ़ता खतरा, अब कपड़े के मास्क से नहीं चलेगा काम!, हेल्थ एक्सपर्ट्स की ALERT

पब्लिक ट्रांसपोर्ट में मास्क चेक करती टीम

पब्लिक ट्रांसपोर्ट में मास्क चेक करती टीम

As Omicron spreads, need to change a mask:ओमिक्रॉन वेरिएंट के बढ़ते संक्रमण के बीच हेल्थ एक्सपर्ट्स ने मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने की अपील की है. वहीं अमेरिका स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने कहा कि कपड़ से बने मास्क सिर्फ चेहरे की सजावट के लिए होते हैं और यह वायरस के संक्रमण से बचाव में प्रभावी नहीं होते हैं. उन्होंने कहा कि इस अत्याधिक संक्रामक वेरिएंट से बचने के लिए हमें त्रिस्तरीय सर्जिकल मास्क पहनने की जरुरत है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: देश और दुनिया में कोरोना वायरस (Coronavirus) का ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) तेजी से फैल रहा है. यह वेरिएंट अब तक 100 देशों के लोगों को प्रभावित कर चुका है. वहीं भारत में भी इस वेरिएंट से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या 400 के पार चली गई है. इस वेरिएंट से संक्रमित होने से बचने के लिए हेल्थ एक्सपर्ट्स ने यूनिवर्सल वैक्सीन यानि मास्क (Mask) पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करने की अपील की है.

    अमेरिका के मेडिकल एनालिस्ट डॉ लियान वेन ने सीएनएन से बात करते हुए कहा कि कपड़ों से मास्क सिर्फ चेहरे की सजावट के लिए होते हैं और यह वायरस के संक्रमण से बचाव में प्रभावी नहीं होते हैं. उन्होंने कहा कि इस अत्याधिक संक्रामक वेरिएंट से बचने के लिए हमें त्रिस्तरीय सर्जिकल मास्क पहनने की जरुरत है. हालांकि आप चाहें तो उसके ऊपर कपड़े से बना मास्क पहन सकते हैं लेकिन सिर्फ कपड़े का मास्क पहनने से काम नहीं चलेगा. वहीं एक अन्य मेडिकल एक्सपर्ट इरिन ब्रोमेज ने कहा कि, क्लाथ मास्क सिर्फ वायरस की बड़ी ड्रॉपलेट को ही फिल्टर कर सकते हैं.

    नवंबर में साउथ अफ्रीका में पहचान के बाद ओमिक्रॉन वेरिएंट दुनिया के कई देशों में तेजी से फैला है. भारत सरकार ने देश में मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं होने पर लोगों को चेतावनी दी है.

    यह भी पढ़ें: सरकारी रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा, ओमिक्रॉन के 50% मामले वैक्सीन की दोनों डोज लेने वाले थे

    हाल ही में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में नीति आयोग (स्वास्थ्य) के सदस्य डॉ वी के पॉल ने कहा था कि भारत में नागरिक मास्क लगाना छोड़ते जा रहे हैं जिससे संक्रमण का जोखिम बढ़ सकता है और लोगों की यह प्रवृत्ति पूरी तरह से अस्वीकार्य है. उन्होंने जोर देते हुए कहा कि वैक्सीन और मास्क दोनों ही कोरोना महामारी से बचाव के अहम हथियार हैं.

    भारत में अब तक ओमिक्रॉन वेरिएंट के 430 मामले सामने आए हैं, जिनमें 37 म्यूटेशन पाए गए हैं जो कि अन्य वेरिएंट की तुलना में सबसे अधिक है. इस वेरिएंट में कई म्यूटेशन होने की वजह से, ऐसा माना जा रहा है कि मौजूदा वैक्सीन इसके खिलाफ ज्यादा प्रभावी ना हों. भारत में ओमिक्रॉन के सबसे ज्यादा मरीज महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान और गुजरात में मिले हैं.

    Tags: Corona, Corona Mask, Omicron

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर