डबल रोलः कोर्ट में पैरवी लेकिन बाहर अनिल अंबानी पर हमलावर हैं कपिल सिब्बल!

सुप्रीम कोर्ट में पेश होने से पहले कपिल सिब्बल कांग्रेस नेता के किरदार में दिखे थे और उन्होंने अनिल अंबानी के खिलाफ ट्वीट किया था.

News18Hindi
Updated: February 13, 2019, 8:17 AM IST
डबल रोलः कोर्ट में पैरवी लेकिन बाहर अनिल अंबानी पर हमलावर हैं कपिल सिब्बल!
कपिल सिब्बल (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: February 13, 2019, 8:17 AM IST
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल मंगलवार को दो रोल निभाते नज़र आए. एक तरफ कपिल सिब्बल ने अपने वकील होने का रोल निभाया, तो दूसरी तरफ वह कांग्रेस नेता के किरदार में भी दिखे. एक मामले में कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में अनिल अंबानी के लिए पेश हुए, तो दूसरी तरफ राफेल मामले में उन्होंने उनकी आलोचना भी की.

रिलायंस कम्युनिकेशन (आरओ) द्वारा रिलायंस जियो को 550 करोड़ में अपनी संपत्ति बेचने के बाद, एरिक्सन इंडिया ने आरओ के चेयरमैन के खिलाफ अवमानना का केस दायर किया है. इसी मामले में अनिल अंबानी का पक्ष रखने के लिए कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए. कपिल सिब्बल और मुकुल रोहतगी ने तर्क दिया कि अनिल अंबानी के खिलाफ कोर्ट की अवमानना का कोई केस नहीं बनता है. कोर्ट ने अनिल अंबानी को बुधवार को फिर कोर्ट में पेश होने के लिए कहा है.

सुप्रीम कोर्ट में अनिल अंबानी का पक्ष रखने पर कपिल सिब्बल ने सफाई भी दी. एनडीटीवी से बात करते हुए उन्होंने कहा, “मैं एरिक्सन के खिलाफ अनिल अंबानी का पक्ष रख रहा था और इसका अनिल अंबानी से कुछ लेना-देना नहीं है. यह कॉर्पोरेट फाइट है और अनिल अंबानी एमडी हैं. मैं पिछले 20 सालों से उनके लिए पेश हो रहा हूं."



2014 में एरिक्सन इंडिया ने आरकॉम के साथ पूरे देश में आरकॉम के नेटवर्क को संचालित और मैनेज करने के लिए सात साल का करार किया था. एरिक्सन इंडिया ने आरकॉम पर 1500 करोड़ रुपये से अधिक का बकाया न चुकाने का आरोप लगाया है. एरिक्सन ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल में आरकॉम को चुनौती दी है.


सुप्रीम कोर्ट में पेश होने से पहले कपिल सिब्बल कांग्रेस नेता के किरदार में दिखे थे और उन्होंने अनिल अंबानी के खिलाफ ट्वीट किया था.



जिस वक्त कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में अनिल अंबानी का बचाव कर रहे थे, उसी वक्त उनके पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी एक रैली में अनिल अंबानी पर निशाना साध रहे थे.

ये भी पढ़ें: प्रियंका की एंट्री पर कपिल सिब्बल का ट्वीट- अब .... मुक्‍त वाराणसी और .... मुक्त होगा गोरखपुर

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि वे अनिल अंबानी के बिचौलिए के रूप में काम कर रहे हैं. उन्होंने एक ईमेल का हवाला देते हुए कहा कि राफेल सौदे से 10 दिन पहले अनिल अंबानी ने पेरिस में फ्रांस के रक्षा मंत्री से मुलाकात की थी. कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि जब रक्षा मंत्री और विदेश सचिव को इस डील की जानकारी नहीं थी तब अनिल अंबानी इस सौदे के बारे में जानते थे.

अनिल अंबानी की रिलायंस डिफेंस ने कहा, "तथ्यों को जानबूझकर तोड़ा-मरोड़ा जा रहा है और वास्तविकता को नज़रअंदाज किया जा रहा है. इस यात्रा का राफेल से कुछ लेना-देना नहीं है.”


कांग्रेस का आरोप है कि अनिल अंबानी, जिनकी ‘रिलायंस डिफेंस’ राफेल बनाने वाली कंपनी दशॉ की ऑफसेट पार्टनर है, को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार ने राफेल की अधिक कीमत चुकाई. हालांकि, दशॉ और अनिल अंबानी दोनों कांग्रेस के आरोपों का खंडन कर रहे हैं.

गौरतलब है कि कपिल सिब्बल के साथ इससे पहले भी ऐसी स्थिति पैदा हो गई है. 2017 में वह तीन तलाक के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पर्सनल लॉ की तरफ से पेश हुए थे. इससे पहले उन्होंने साराद घोटाले में तृणमूल कांग्रेस का पक्ष रखा था, जबकि राहुल गांधी भ्रष्टाचार के लिए ममता बनर्जी पर निशाना साध रहे थे.

ये भी पढ़ें: सिब्बल बोले- राफेल की CAG रिपोर्ट से होगा एक और घोटाला, जेटली ने दिया ये जवाब

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर