अयोध्या में भूमि पूजन में PM मोदी के शामिल होने से तिलमिलाए ओवैसी, बोले-हिंदुत्व की कामयाबी का दिन

अयोध्या में भूमि पूजन में PM मोदी के शामिल होने से तिलमिलाए ओवैसी, बोले-हिंदुत्व की कामयाबी का दिन
ओवैसी ने पीएम मोदी के राम मंदिर भूमि पूजन में शामिल होने पर आपत्ति जताई है.

अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर भूमि पूजन (Ram Mandir Bhoomi Pujan) का कार्यक्रम प्रधानमंत्री मोदी के हाथों संपन्न हो गया है. अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम के बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी के इस कार्यक्रम में शामिल होने पर सवाल खड़ा किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2020, 4:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर भूमि पूजन (Ram Mandir Bhoomi Pujan) का कार्यक्रम प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के हाथों संपन्न हो गया है. अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम के बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी के इस कार्यक्रम में शामिल होने पर सवाल खड़ा किया है. ओवैसी ने कहा, 'मैं शुरू से ही यह कहता रहा हूं कि पीएम को भूमि पूजन में शामिल नहीं होना चाहिए था. क्योंकि वह किसी समुदाय के पीएम नहीं है, भारत का एक ही धर्म है. उन्होंने कहा कि ये लोकतंत्र की हार है.

ओवैसी ने आगे कहा, 'पीएम का इस कार्यक्रम में शामिल होना देश की धर्मनिरपेक्ष नीतियों का उल्लंघन है. आज हिंदुत्व और धर्मनिरपेक्षता के लिए एक सफल दिन है क्योंकि मोदी (एक पीएम के रूप में) इस कार्यक्रम में शामिल हुए. पीएम ने कहा कि आज का कार्यक्रम भारत का प्रतीक है. लेकिन, वह एक देश के पीएम हैं और उन्हें समझने की जरूरत है कि देश का प्रतीक मंदिर या मस्जिद नहीं हो सकता.'

क्या है नया भारत?
ओवैसी ने आगे बोलते हुए कहा, 'मैं कह रहा हूं कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रमुख उपस्थिति के कारण हिंदुत्व की सफलता का दिन है. वह वहां क्यों है? भागवत ने कहा कि यह नया भारत बनाता है. क्या है नया भारत? नया भारत जहां मुस्लिमों के साथ भेदभाव किया जाएगा.'
संघ परिवार ने किया बाबरी मस्जिद को ध्वस्तः ओवैसी


उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi in Ayodhya) ने बुधवार को कहा कि वह आज भावुक थे. मैं भी उतना ही भावुक था क्योंकि मैं नागरिकों की सहभागिता और समानता में यकीन रखता हूं. मिस्टर प्राइम मिनिस्टर, मैं इस वजह से भावुक हूं क्योंकि वहां 450 वर्षों तक मस्जिद खड़ी थी.' उन्होंने कहा, 'मैं भी भावुक हूं क्योंकि आपकी पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट में झूठ बोला है. बीजेपी और संघ परिवार ने मिलकर बाबरी मस्जिद को ध्वस्त कर दिया था.'

भूमि पूजन से पहले ट्वीट
ओवैसी ने राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम के शुरू होने से पहले ट्वीट कर कहा था कि बाबरी जिंदा है. इस ट्वीट में ओवैसी ने इसमें बाबरी जिंदा है हैशटैग का इस्तेमाल किया था. असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट में लिखा, 'बाबरी मस्जिद थी, है और रहेगी इंशाअल्लाह.' एआईएमआईएम नेता ने हैशटैग बाबरी जिंदा है के साथ इस ट्वीट को शेयर किया. बताते चलें कि ओवैसी ने पीएम मोदी के भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होने पर सवाल उठाते हुए कहा था कि यह संविधान सम्मत नहीं होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading