जो 100 ऑक्सीजन प्लांट नहीं लगा सकी, वो 1.37 अरब लोगों से नागरिकता का सबूत मांगती है: ओवैसी का केंद्र पर हमला

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी. (पीटीआई फाइल फोटो)

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी. (पीटीआई फाइल फोटो)

Coronavirus Oxygen Plant: कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच देश के अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो गई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने गुरुवार को ऑक्सीजन प्लांट के बहाने नागरिकता कानून को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, 'जो सरकार देश में 100 ऑक्सीजन प्लांट तैयार नहीं कर सकी, वह चाहती है कि 1.37 लोग अपनी नागरिकता साबित करें.'


गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने कोहराम मचा रखा है और पिछले कुछ दिनों से  रोजाना तीन लाख से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में अस्पतालों में बेड और आईसीयू के साथ ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो गई है.


कोरोना के नए मामलों में से 72% 10 राज्यों से

इस बीच दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश उन 10 राज्यों में शामिल हैं जहां पिछले 24 घंटे में सामने आए 3,62,727 नए मामलों में से 72.42 प्रतिशत मामले दर्ज किए गए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल और राजस्थान भी इन 10 राज्यों की सूची में शामिल हैं. महाराष्ट्र से एक दिन में 46,781 नए मामले सामने आए हैं. इसके बाद केरल में 43,529, जबकि कर्नाटक में 39,998 नए मामले दर्ज किए गए. भारत में 37,10,525 मरीज उपचाराधीन हैं और यह देश में संक्रमण के कुल मामलों का 15.65 प्रतिशत है. एक दिन में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कुल 6,426 मामलों की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है.


अब तक कोरोना के 17.72 करोड़ टीके दिए गए

दूसरी ओर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में कुल मिलाकर 17.72 करोड़ टीके दिए जा चुके हैं. गुरुवार सुबह सात बजे तक की अंतिम रिपोर्ट के मुताबिक 25,70,537 सत्रों के माध्यम से कुल 17,72,14,256 टीके की खुराकें दी जा चुकी हैं. इनमें 96,00,420 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की पहली खुराक और 65,70,062 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की दूसरी खुराक दी जा चुकी है. इसके अलावा अग्रिम मोर्चे के 1,42,34,793 कर्मियों को पहली और 80,30,007 कर्मियोंको दूसरी खुराक तथा 18-44 आयु वर्ग में 34,80,618 लाभार्थियों को पहली खुराक दी जा चुकी है. इसके अलावा 45 से 60 साल की आयु वर्ग के 5,62,43,308 लाभार्थियों को पहली और 81,58,535 लाभार्थियों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है, जबकि 60 वर्ष से अधिक उम्र के 5,40,99,241 लाभार्थियों को पहली और 1,67,97,272 लाभार्थियों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज