नाबालिग से रेप के जुर्म में आसाराम को ताउम्र कैद, सजा सुनते ही छलक आए आंसू

आसाराम ताउम्र यानी मौत होने तक जेल में रहेगा और अदालत ने उस पर एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है. वहीं उसके सहयोगियों शरद और शिल्पी को अदालत ने 20-20 साल की सजा सुनाई. सजा सुनते ही आसाराम फर्श पर बैठ गया और रोने लगा.

News18Hindi
Updated: April 25, 2018, 8:34 PM IST
नाबालिग से रेप के जुर्म में आसाराम को ताउम्र कैद, सजा सुनते ही छलक आए आंसू
नाबालिग से रेप के जुर्म में आसाराम को ताउम्र जेल की सजा
News18Hindi
Updated: April 25, 2018, 8:34 PM IST
स्वयंभू बाबा आसाराम को एक लड़की से रेप के जुर्म में जोधपुर की विशेष अदालत ने दोषी ठहराते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई. यह घटना पांच साल पहले आसाराम के आश्रम की है. स्पेशल कोर्ट ने इस मामले में दो अन्य लोगों को भी दोषी करार दिया, जबकि दो आरोपियों को बरी कर दिया गया.

जोधपुर सेंट्रल जेल में बनी कोर्ट में स्पेशल जज मधुसूदन शर्मा ने आसाराम को बलात्कार का दोषी ठहराने और इस अपराध के लिए उन्हें उम्र कैद की सजा का फैसला सुनाया. 77 साल के आसाराम इसी जेल में चार साल से ज्यादा वक्त से बंद है. सजा सुनते ही आसाराम कोर्ट में ही फर्श पर बैठ गया और रोने लगा.

आसाराम को ताउम्र कैद, दो मददगारों को 20-20 साल की सजा
इस मामले में सरकारी वकील पोकर राम बिश्नोई ने तीनों दोषियों को सजा सुनाए जाने के अदालत के फैसले के बाद संवाददाताओं से कहा, 'आसाराम को आजीवन कारावास की सजा दी गई, जबकि उसके सहयोगियों शरद और शिल्पी को अदालत ने 20-20 साल की सजा सुनाई.'

बिश्नोई ने कहा कि आसाराम ताउम्र यानी मौत होने तक जेल में रहेगा और अदालत ने उस पर एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है. यह फैसला ऐसे समय आया है, जब यौन हिंसा और खासकर नाबालिगों के साथ बलात्कार को लेकर बढ़ते देश भर के कई हिस्सों में काफी गुस्सा देखा जा रहा है.

पीड़िता को हॉस्टल से बुलाकर किया गया रेप

Loading...

सरकारी वकील ने बताया कि अभियोजन ने अधिकतम सजा की मांग की थी. उन्होंने कहा, 'हमने दलील दी कि आसाराम संत नहीं है और उसने साजिश के तहत पीड़िता को हॉस्टल से बुलाकर उसका बलात्कार किया.' बिश्नोई ने कहा , 'शरद और शिल्पी भी साजिश का हिस्सा थे.'

साबरमती नदी के किनारे एक झोंपड़ी से शुरुआत करने से लेकर देश और दुनियाभर में 400 से अधिक आश्रम बनाने वाले आसाराम ने चार दशक में 10,000 करोड़ रुपये का साम्राज्य खड़ा कर लिया था.

आसाराम और चार अन्य सहआरोपियों के खिलाफ पुलिस ने पॉक्सो अधिनियम, किशोर न्याय अधिनियम और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत छह नवंबर 2013 को पुलिस ने आरोपपत्र दायर किया था. पीड़िता ने आसाराम पर उसे जोधपुर के नजदीक मनाई इलाके में आश्रम में बुलाने और 15 अगस्त 2013 की रात उसके साथ बलात्कार करने का आरोप लगाया था.

पीड़िता के पिता बोले- अब हमें न्याय मिला
उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की रहने वाली पीड़िता मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा स्थित आसाराम के आश्रम में पढ़ाई कर रही थी. फैसले के बाद पीड़िता के पिता ने कहा, 'हमें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा था और हमें खुशी है कि न्याय मिला.' उन्होंने कहा कि परिवार लगातार दहशत में जी रहा था और इसका उनके व्यापार पर भी काफी असर पड़ा. फैसले के मद्देनजर जोधपुर जेल के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी जहां पहले से निषेधाज्ञा लागू थी.

साल भर के अंदर दूसरे स्वयंभू बाबा को सजा
एक साल के अंदर यह दूसरा मामला है, जब किसी स्वयंभू बाबा को बलात्कार के जुर्म में कोर्ट ने दोषी करार दिया है. इससे पहले पिछले साल अगस्त में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को भी यौन शोषण के जुर्म में कोर्ट ने 20 साल जेल की सजा सुनाई थी. तब उनके समर्थकों ने हरियाणा, पंजाब और दिल्ली के कई हिस्सों में जमकर उत्पात मचाया था. ऐसे में पुलिस ने किसी भी तरह की हिंसा और अप्रिय घटना से निपटने के लिए आसाराम के आश्रमों के आस पास की सुरक्षा बढ़ा दी थी.

केंद्र ने कानून-व्यवस्था बनाए रखने के इरादे से राजस्थान, गुजरात और हरियाणा सरकारों से सुरक्षा कड़ी करने और अतिरिक्त बल तैनात करने का निर्देश दिया था. तीनों राज्यों में आसाराम के बड़ी संख्या में अनुयायी हैं. हालांकि गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, देश के किसी भी हिस्से से अप्रिय घटना की खबर नहीं है. (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें- आसाराम को जेल पहुंचाने में इस आईपीएस अधिकारी का था अहम रोल
शिल्पी थी आसाराम की हनीप्रीत! बच्चियों को भेजती थी आश्रम
जेल में कैदी नंबर 130 होगी आसाराम की नई पहचान
आसाराम की बेटी भारतीश्री देखती हैं आश्रम का कामकाज, नाचती हैं, गाती हैं, करती हैं प्रवचन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 25, 2018, 2:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...