अश्विनी चौबे का दावा- गोमूत्र से बनाई जा रही है कैंसर की दवा

News18Hindi
Updated: September 8, 2019, 6:17 AM IST
अश्विनी चौबे का दावा- गोमूत्र से बनाई जा रही है कैंसर की दवा
अश्विनी चौबे का दावा- गोमूत्र से बनाई जा रही है कैंसर की दवा

अश्विनी कुमार चौबे (Ashwini Kumar Choubey) ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में कैंसर (Cancer) के इलाज को शामिल करने के एक प्रस्ताव पर काम कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 8, 2019, 6:17 AM IST
  • Share this:
केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे (Ashwini Kumar Choubey) एक बार फिर अपने बयान को लेकर चर्चा में हैं. अश्विनी कुमार ने कहा है कि आयुष मंत्रालय गोमूत्र से दवाई बनाने का काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि गोमूत्र से कई तरह की बीमारियों का इलाज किया जा रहा है, यहां तक की कैंसर (Cancer) जैसी बीमारी के लिए दवा (Medicine) भी बनाई जा रही है. उन्होंने बताया कि इसके लिए केंद्र सरकार ने गोसंवर्धन और गोपालन के लिए कुछ कदम उठाए हैं. अश्विनी चौबे तमिलनाडु के कोयंबटूर में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे.

अश्विनी कुमार चौबे ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में कैंसर के इलाज को शामिल करने के एक प्रस्ताव पर काम कर रहा है. उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार भी कैंसर जैसी बीमारी के लिए एक अलग योजना पर काम कर रही है. इसके तहत तीन प्रकार के कैंसर का उपचार दिया जा रहा है.



अश्विनी चौबे से जब पूछा गया कि अब तक इस योजना में कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को शामिल क्यों नहीं किया गया था तो उन्होंने कहा कि केंद्र एक अलग योजना के तहत वर्तमान में तीन प्रकार के कैंसर का उपचार प्रदान कर रहा है और अब जेएवाई के तहत इस घातक बीमारी को शामिल करने के प्रस्ताव पर अध्ययन किया जा रहा है.
Loading...

अश्विनी चौबे कोयंबटूर में श्री रामकृष्ण अस्पताल में ‘कैंसर के खिलाफ जंग’ अभियान का उद्घाटन करने पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि गंर संचारी रोग (कैंसर) आज दुनिया के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि देश 2030 तक गैर-संचारी रोग से मुक्त होना चाहता है और स्वास्थ्य मंत्रालय इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 8, 2019, 6:17 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...