देश में कोरोना वैक्सीन की कमी नहीं, स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने राहुल के आरोपों को किया खारिज

अश्विनी चौबे ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

अश्विनी चौबे ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

न्यूज़ 18 से बात करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे (Ashwini Kumar Choubey) ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया. केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर उनके ट्वीट और पत्र को लेकर निशाना भी साधा.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे (Ashwini Kumar Choubey) ने साफ किया है कि देश में कोरोना वैक्सीन (Covid Vaccine) की कोई कमी नहीं है. न्यूज़ 18 से बात करते हुए उन्होंने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया. केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर उनके ट्वीट और पत्र को लेकर निशाना भी साधा.

अश्विनी चौबे ने कहा एक्सपर्ट ग्रुप फैसला करता है कि कहां और कब कितना डोज दिया जाएगा, दूसरा डोज कब दिया जाएगा. अभी राज्यों का डेटा देखा जाए तो कई राज्यों में फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी वैक्सीन का डोज नहीं मिली है. कई जगह 45 के ऊपर के लोग और स्वास्थ्यकर्मियों को भी डोज नहीं मिला है. इसलिए लोगों को जागरुक करने की जरूरत है. एक्सपर्ट के मुताबिक, अगर एक साथ वैक्सीन इकट्ठा कर दी जाए तो वो भी सही नहीं है. इसलिए जैसे-जैसे प्रोडक्शन हो रहा है वैसे-वैसे एक्सपर्ट ग्रुप के सुझाव पर ही उसे भेजा जाता है.

राहुल के बयान को बताया बेतुका और बेबुनियाद

चौबे ने राहुल गांधी के बयान को बेतुकी और बेबुनियाद बताते हुए खारिज कर दिया. उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष को इस वक्त राजनीति नहीं करने की सलाह दी. केंद्रीय मंत्री ने वैक्सीन की कमी के आरोप पर कहा कि अगर ऐसी कोई बात होती तो उनके पंजाब, राजस्थान और महाराष्ट्र के लोग जरूर कहते कि वैक्सीन की कमी है. कल भी बैठक में इन राज्यों की तरफ से संतोषजनक स्थिति बताई गई. ऐसी कहीं कोई बात नहीं है. उन्होंने कहा कि केवल अनर्गल बयान देने से कुछ नहीं होता.
'पीएम नरेंद्र मोदी ने जो किया है वो देश और दुनिया जानती है'

अश्विनी चौबे ने कहा-पीएम नरेंद्र मोदी ने जो किया है वो देश और दुनिया जानती है. टीका उत्सव पर राहुल गांधी के सवाल पर अश्विनी चौबे ने कहा-वो इटली की भाषा में समझ गए होंगे. भारत की भाषा में उत्सव का मतलब है, ज्यादा उत्साह से काम करना.

हालांकि उन्होंने वैक्सीन के प्रति लोगों की जागरुकता को कम बताते हुए कहा, ये गंभीर विषय है. मैं कई राज्यों में गया, वहां लोगों में जागरुकता की कमी दिखी. लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि लोग खुद वैक्सीन ले लेते हैं लेकिन बाकी लोगों को बरगला देते हैं. वैक्सीन के बाद भी कोविड हो सकता है. लेकिन इतना जरूर है कि अगर टीका कोई लगा लेता है तो कोविड के बाद भी उनको उतनी परेशानी नहीं होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज