Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    ASI संरक्षित स्मारक आज से फिर से खुलेंगे, इन नियमों का पालन होगा जरूरी

    दिल्ली के लोधी गार्डन की फाइल फोटो (फोटो- PTI)
    दिल्ली के लोधी गार्डन की फाइल फोटो (फोटो- PTI)

    भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के अंतर्गत 3,000 से अधिक स्मारक (Monument) हैं, जिनमें खजुराहो मंदिर, सांची स्तूप, लाल किला (Lal Quila) और कुतुब मीनार शामिल हैं.

    • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (Archaeological Survey of India) के तहत 3,000 से अधिक स्मारक हैं, जिनमें खजुराहो मंदिर (Khajuraho Temple), सांची स्तूप, लाल किला और कुतुब मीनार (Qutub Minar) शामिल हैं. 100 से अधिक दिनों के बंद के बाद, सभी एएसआई-संरक्षित स्मारक सोमवार (6 जुलाई) से जनता के लिए फिर से खुलेंगे. केंद्रीय संस्कृति मंत्री (Union Culture Minister) प्रह्लाद पटेल ने गुरुवार को कहा कि उनके मंत्रालय ने ऐसे सभी स्मारकों को 6 जुलाई से आगंतुकों के स्वागत के लिए आगे बढ़ा दिया है.

    भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के अंतर्गत 3,000 से अधिक स्मारक (Monument) हैं, जिनमें खजुराहो मंदिर, सांची स्तूप, लाल किला (Lal Quila) और कुतुब मीनार शामिल हैं. मंत्री ने कहा कि स्मारक राज्य और जिला प्रशासन के अनुपालन में खोले जाएंगे. हालांकि, ताजमहल (Taj Mahal) और फतेहपुर सीकरी शहर में कोविड-19 (Covid-19) के 55 नए मामलों के सामने आने के बाद कल फिर से नहीं खुलेंगे. वर्तमान में, आगरा में 71 नियंत्रण क्षेत्र हैं.

    17 मार्च से ही बंद हैं ये संरक्षित स्मारक और पुरातात्विक स्थल
    कोविड-19 महामारी के बीच, सभी स्मारकों को बंद कर दिया गया था क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मार्च में पहली बार देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी. एएसआई के अंतर्गत आने वाले 3,691 संरक्षित स्मारक और पुरातात्विक स्थल 17 मार्च से बंद हैं.
    सभी संरक्षित संरक्षित स्मारकों और संग्रहालयों को खोलने के लिए इस मानक संचालन प्रक्रिया (SoP) का पालन करना होगा. ये वे दिशा-निर्देश हैं जिन्हें सरकार ने फिर से खुलने वाले स्मारकों के लिए तय किया है-



    -- केवल वे स्मारक/ संग्रहालय जो गैर-कंटेनमेंट जोन में हैं, वे ही आगंतुकों के लिए खुले रहेंगे.

    -- सभी केंद्रीय संरक्षित स्मारक और स्थल गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी किए गए प्रोटोकॉल के अनुसार बाध्य होंगे, साथ ही राज्य और / या जिला प्रशासन के कोई विशिष्ट आदेश भी इस पर लागू होंगे.

    -- प्रवेश टिकट केवल ई-मोड द्वारा जारी किए जाएंगे. अगले आदेश तक कोई भौतिक टिकट जारी नहीं किए जाएंगे.

    -- पार्किंग, कैफेटेरिया आदि में, केवल डिजिटल भुगतान की अनुमति है.

    -- आगंतुकों को कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के उद्देश्य से स्मारकों के प्रवेश पर अपने फोन नंबर साझा करने होंगे क्योंकि बाद में इसकी जरूरत हो सकती है.

    -- चुनिंदा स्मारकों में आगंतुकों की एक नियत संख्या ही प्रवेश कर सकेगी. लोकप्रिय स्मारकों के लिए यह संख्या 1,000 और 1,500 के बीच है.

    -- आगंतुक सामाजिक भेद का पालन करेंगे. फेस कवर / मास्क का उपयोग अनिवार्य है. प्रवेश के लिए अनिवार्य हाथों की स्वच्छता और थर्मल स्कैनिंग का प्रावधान है. केवल बिना लक्षणों वाले लोगों को ही प्रवेश की अनुमति होगी.

    -- स्मारक के भीतर प्रवेश और निकास और आवागमन के लिए निर्दिष्ट मार्ग होंगे. मार्ग केवल एक ही रास्ता होगा, जिसमें एक ही लाइन होगी ताकि सामाजिक दूरी के मानदंडों को बनाए रखा जा सके.

    -- एएसआई किसी भी स्मारक के संवेदनशील और आंतरिक हिस्सों तक पहुंच को प्रतिबंधित कर सकता है.

    -- आगंतुकों को स्मारक के अंदर के इलाके में ही सीमित रहने के लिए कहा जाएगा. स्मारक के अंदर सुरक्षा कर्मचारी यह सुनिश्चित करेंगे कि किसी भी बिंदु पर भीड़ न हो.

    -- परिसर के भीतर किसी समूह फोटोग्राफी की अनुमति नहीं है.

    -- स्मारकों पर सभी साउंड और लाइट शो और फिल्में शो अगले आदेश तक निलंबित रहेंगे.

    -- वाहनों को निर्धारित क्षेत्रों में पार्क किया जाएगा. पार्किंग क्षेत्र चलाने वाले ठेकेदार केवल डिजिटल भुगतान के माध्यम से पार्किंग शुल्क लेंगे. कोई भी भौतिक नकद लेनदेन की अनुमति नहीं है.

    -- वैध लाइसेंस वाले गाइड और फोटोग्राफर्स को काम करने की अनुमति है.

    -- परिसर के अंदर कोई भोजन/ खाने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

    यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस से संक्रमित होने के लिए आगे आए 30 हजार से ज्यादा लोग, जानें कारण

    -- सभी कर्मचारियों को स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार अच्छी तरह से संरक्षित किया जाएगा.

    -- टॉयलेट ब्लॉक, बेंच और अक्सर इस्तेमाल की जाने वाली सतहों सहित स्मारकों और संग्रहालयों की सफाई और सफाई नियमित अंतराल पर की जाएगी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज