असम ने मिजोरम पुलिस पर अपने भू-भाग में बंकर जैसा ढांचा बनाने का आरोप लगाया

असम-मिजोरम में पिछले कुछ दिनों से सीमा को लेकर तनाव जारी है. (फाइल फोटो)
असम-मिजोरम में पिछले कुछ दिनों से सीमा को लेकर तनाव जारी है. (फाइल फोटो)

असम-मिजोरम सीमा (Assam-Mizoram Border) पर 17 अक्टूबर को तनाव पैदा हो गया था, जब उपद्रवियों ने कुछ अस्थायी झोपड़ियों को क्षतिग्रस्त कर दिया था. इसके बाद दोनों राज्यों और केंद्र के अधिकारियों बीच कई दौर की वार्ता हुई थी.

  • Share this:
गुवाहाटी. असम सरकार (Assam Government) ने आरोप लगाया है कि पड़ोसी राज्य मिजोरम की पुलिस अपने भू-भाग में बंकर जैसा ढांचा बना रही है, जिसे लेकर लोग परेशान और नाखुश हैं. उल्लेखनीय है कि असम-मिजोरम सीमा पर 17 अक्टूबर को तनाव पैदा हो गया था, जब उपद्रवियों ने कुछ अस्थायी झोपड़ियों को क्षतिग्रस्त कर दिया था. इसके बाद दोनों राज्यों और केंद्र के अधिकारियों बीच कई दौर की वार्ता हुई थी.

कछार जिला उपायुक्त कीर्ति जल्ली ने मिजोरम के कोलाशीब जिला के अधिकारियों को लिखे एक पत्र में कहा है कि कुलीचेरा इलाके में आक्रामक गतिविधि स्थानीय शांति एवं सामान्य स्थिति में विघ्न डालेगी. उन्होंने पत्र में कहा है, 'यह भी पाया गया है कि राष्ट्रीय राजमार्ग 306 पर निर्माण कार्य जैसी गतिविधियां की गई हैं, जेसीबी मशीनों के इस्तेमाल से बंकर जैसे ढांचे बनाए जा रहे हैं.

असम-मिजोरम बॉर्डर पर हिंसक झड़प के बाद तनाव, केंद्र ने बुलाई बैठक
अभी कुछ दिन पहले ही असम और मिजोरम के लोगों के बीच हुई हिंसक झड़प में कई लोगों के घायल होने के बाद दोनों राज्यों की सीमा पर तनाव की स्थिति बन गई थी. उस वक्‍त अधिकारियों ने कहा कि हालात की जानकारी देते हुए बताया कि मिजोरम के कोलासिब और असम के कछार जिले की सीमा से सटे इलाकों में अब स्थिति नियंत्रण में है. वहीं मिजोरम के गृह मंत्री ललचामलियाना ने कहा कि हालात का जायजा लेने के लिए केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला सोमवार को दोनों राज्यों के साथ होने वाली बैठक की अध्यक्षता करेंगे. उन्होंने कहा कि बैठक में दोनों राज्यों के मुख्य सचिव मौजूद रहेंगे.
अधिकारियों ने कहा कि दोनों राज्यों ने हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में भारतीय रिजर्व वाहिनी समेत सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया है, जोकि मिजोरम के वैरेंगते गांव के पास और असम के लैलापुर के अंतर्गत आते हैं. मिजोरम के कोलासिब जिले का वैरेंगते गांव राज्य का उत्तरी हिस्सा है, जिससे गुजरता राष्ट्रीय राजमार्ग-306 असम को इस राज्य से जोड़ता है. वहीं, असम के कछार जिले का लैलापुर इसका सबसे करीबी गांव है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज