Assembly Banner 2021

Assembly Elections: अमित शाह बोले- बंगाल में पहले चरण की 30 में से 26, असम की 47 में 37 सीटें जीतेगी बीजेपी

अमित शाह प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रह हैं. (फोटो: Bjp4India)

अमित शाह प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रह हैं. (फोटो: Bjp4India)

Assembly Elections 2021: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) राजधानी दिल्ली स्थित सरकारी आवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने विधानसभा चुनाव 2021 के आगाज को लेकर बात की. पश्चिम बंगाल और असम में पहले चरण के मतदान हो चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 3:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने शनिवार को असम और पश्चिम बंगाल (West Bengal) में हुए पहले चरण के मतदान को लेकर खुशी जाहिर की. उन्होंने दोनों राज्यों में जीत की बात कही है. उन्होंने कहा है कि बीजेपी (BJP) बंगाल में पहले चरण की 30 में से 26 और असम की 47 में से 37 सीटों पर जीत रही है. शाह ने बंगाल की मुख्मंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर भी निशाना साधा है. विधानसभा चुनाव 2021 का आगाज हो चुका है.

राजधानी दिल्ली स्थित सरकारी आवास पर आयोजित हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में शाह ने बंगाल और असम दोनों राज्यों में बड़ी जीत का दावा किया है. उन्होंने कहा 'पहले चरण में बंगाल में 30 में से 26 सीटों से ज्यादा पर भाजपा जीत रही है, प्रचंड बहुमत के साथ सीटें जीत रही हैं. हमारी सीटें भी बढ़ रही हैं और जीत का अंतर भी बढ़ रही है. असम में 47 में से 37 सीटों से ज्यादा पर भाजपा जीतेगी, इसके साफ संकेत हमें मिले हैं.'

294 सीटों वाले बंगाल में पहले चरण के मतदान के बाद बीजेपी को बड़ी जीत की उम्मीद है. उन्होंने कहा 'मैं मानता हूं कि बंगाल में प्रथम चरण में 26 सीटों से जो शुरुआत हुई है, हमारे लक्ष्य 200 पार को सिद्ध करने में हमें बड़ी सरलता रहेगी. भाजपा 200 से ज्यादा सीटों के साथ बंगाल में सरकार बनाएगी, इसका मुझे और सभी कार्यकर्ताओं को पूर्ण विश्वास है.'



यह भी पढ़ें: Tamil Nadu Elections 2021: राहुल गांधी का AIADMK पर प्रहार, कहा- पीएम मोदी के चरणों में CM पलानीस्वामी का झुकना अच्छा नहीं लगता
सीएम ममता पर निशाना
पत्रकार वार्ता में शाह ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाए हैं कि बनर्जी के शासन में बंगाल में और गिरावट आई है. शाह ने कहा 'बंगाल में जिस प्रकार का घोर निराशा और हताशा का माहौल था. 27 साल के कम्युनिस्ट शासन के बाद बंगाल के लोगों को आशा थी कि दीदी एक नई शुरुआत लेकर आएगी. मगर दल का चिन्ह और नाम बदल गया, लेकिन बंगाल वहीं का वहीं रहा बल्कि और गिरावट आई.'



उठाया चुनावी हिंसा का मुद्दा
इस दौरान उन्होंने दोनों राज्यों इससे पहले हुई चुनावी हिंसाओं का भी मुद्दा उठाया. रविवार को शाह ने कहा 'असम कुछ वर्षों पहले और बंगाल भी पहले चुनावी हिंसा के लिए जाना जाता था. इस बार दोनों जगह मतदान शांतिपूर्ण हुआ है, किसी भी व्यक्ति की जान कहीं भी नहीं गई है. ये दोनों राज्यों के लिए शुभ संकेत हैं.'

चुनाव आयोग का धन्यवाद जताते हुए उन्होंने कहा 'मैं चुनाव आयोग को बधाई देता हूं कि बंगाल में चुनाव आयोग को शांतिपूर्ण मतदान कराने में उन्हें सफलता मिली है. ये कई वर्षों के बाद हो रहा है कि बिना किसी की मृत्यु के, बम धमाकों के बिना, दोबारा मतदान कराए बिना, मतदान प्रक्रिया पूरी हुई है.' उन्होंने कहा 'पश्चिम बंगाल में 84 प्रतिशत से ज्यादा मतदान और असम में 79 प्रतिशत से ज्यादा मतदान होना बताता है कि जनता में भारी उत्साह है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज