असम चुनावों को लेकर अमित शाह के घर पर BJP की हाई लेवल मीटिंग, कई बड़े नेता मौजूद

असम के सीएम और वित्त मंत्री अमित शाह के घर पहुंच चुके हैं. (तस्वीर-ani)

बुधवार शाम इस बैठक के लिए अमित शाह के घर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल (Sarbananda Sonowal) और वित्त मंत्री हेमंत बिस्व सरमा (Himanta Biswa Sarma) पहुंच गए हैं. इस बैठक में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. असम विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Election 2021) को लेकर गृह मंत्री अमित शाह के घर पर हाई लेवल मीटिंग की जा रही है. बुधवार शाम इस बैठक के लिए अमित शाह के घर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल (Sarbananda Sonowal) और वित्त मंत्री हेमंत बिस्व सरमा  (Himanta Biswa Sarma) पहुंचे. इस बैठक में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद हैं. माना जा रहा है कि तारीखों की घोषणा के बाद अब पार्टी में प्रत्याशियों के चयन और बाकी चुनावी रणनीतियों को लेकर विचार-विमर्श किया जाएगा.

    2016 में ऐतिहासिक जीत दर्ज कर असम में सरकार बनाने वाली बीजेपी इस बार दोबारा पूर्ण बहुमत की सरकार के दावे कर रही है. हालांकि कहा जा रहा है कि उत्तर पूर्व के सबसे बड़े राज्य में पार्टी को नागरिकता संशोधन कानून की वजह से दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. विपक्षी कांग्रेस पार्टी इस वक्त राज्य में सीएए के खिलाफ माहौल बनाने की पूरी कोशिश कर रही है. राज्यभर में अभियान चलाकर पार्टी कार्यकर्ताओं ने एक लाख से ज्यादा सीएए विरोधी संदेशों वाले गमछे इकट्ठे किए हैं.



    बीजेपी की सहयोगी रही बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट ने खुद को एनडीए से अलग कर लिया
    महज दो दिनों पहले ही राज्य में बीजेपी की सहयोगी रही बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट ने खुद को एनडीए से अलग कर लिया है. हालांकि बीजेपी पहले ही घोषणा कर चुकी थी कि वो बीपीएफ के साथ चुनाव में गठबंधन नहीं करेगी. दोनों पार्टियों के संबंध बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल के चुनाव के बाद खराब होते गए. बीजेपी ने बीपीएफ की भरवाई करने के लिए बोडोलैंड इलाके में नया सहयोगी तलाश लिया है.

    हाल के दिनों में पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह असम में जनसभाओं को संबोधित कर चुके हैं. दोनों ही नेताओं ने केंद्र और राज्य सरकार द्वारा असम के लोगों के लिए किए गए विकास कार्यों की याद दिलाई. राज्य में बीजेपी चाणक्य कहे जाने वाले हेमंत बिस्व सरमा भी पूर्ण बहुमत की सरकार का दावा कर चुके हैं.