Assembly Banner 2021

विधानसभा चुनावः अमित शाह बोले- पांच साल और दीजिए असम को 'बाढ़ मुक्त' बनाएंगे

अमित शाह ने कहा कि कुछ ही दिनों में आप सभी को पांच साल असम का शासन किस पार्टी और किस व्यक्ति के हाथ में रहेगा वो तय करना है. ANI

अमित शाह ने कहा कि कुछ ही दिनों में आप सभी को पांच साल असम का शासन किस पार्टी और किस व्यक्ति के हाथ में रहेगा वो तय करना है. ANI

Assam Assembly Elections: अमित शाह ने कहा कि वर्षों से असम में कांग्रेस सरकार थी, लेकिन कभी इन्होंने घुसपैठियों को बाहर निकाला या कभी ये इनको बाहर निकालना चाहते थे क्या?

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 14, 2021, 5:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. असम विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Elections) में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने रविवार को नाजिरा में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व में असम विकास के पथ पर अग्रसर है. उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि "हमें पांच साल और दीजिए हम असम को 'बाढ़ मुक्त' बनाएंगे. बाढ़ प्रबंधन ऐसा होगा कि बाढ़ का पानी तालाब और झील में तब्दील हो जाएगा, जिससे राज्य में पर्यटन के मौके बढ़ेंगे." अमित शाह ने कहा कि "5 वर्ष पहले हमने वादा किया था कि आप एक बार असम में भाजपा की सरकार बनाइए, हम असम को आतंकवाद से मुक्त करेंगे. मैं नाजिरा के लोगों से पूछना चाहता हूं कि 5 साल में यहां गोली चलने या आतंकवाद की कोई आवाज आई है क्या? हमने कहा था कि असम को घुसपैठियों से मुक्त करेंगे, वो काम लगभग पूरा हो चुका है. हमने कहा था कि असम को आतंकवाद से मुक्त करेंगे, लगभग 2000 से ज्यादा लोगों ने हथियार डालकर मुख्यधारा में वापसी की है."

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, "कांग्रेस ने केरल में देश को तोड़ने का काम करने वाली मुस्लिम लीग के साथ गठबंधन किया है. असम में बदरुद्दीन अजमल और बंगाल में फुरफुरा शरीफ के नेता के साथ गठबंधन किया है. कांग्रेस पार्टी चुनाव जीतने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकती है. मैं आज आप सबसे पूछता हूं कि आपको हिंसा चाहिए या शांति चाहिए? आपको घुसपैठ चाहिए या विकास की ट्रेन चाहिए? आप मुझे बताइये कि राहुल बाबा अपनी गोद में बदरुद्दीन अजमल को लेकर घूम रहे हैं, वो घुसपैठ रोक सकते हैं क्या?"

शाह ने कहा कि वर्षों से असम में कांग्रेस सरकार थी, लेकिन कभी इन्होंने घुसपैठियों को बाहर निकाला या कभी ये इनको बाहर निकालना चाहते थे क्या? कांग्रेस सरकार कभी भी घुसपैठियों को बाहर नहीं निकालना चाहती थी, क्योंकि उनको घुसपैठियों में अपना वोट नजर आता है. चुनाव आता है तो विपक्ष के नेताओं के भाषण सुनते हैं तो सरकार के भ्रष्टाचार के किस्से सुनाई पड़ते हैं. मगर हमारे सर्वानंद सोनोवाल और हिमंता विस्वा सरमा ने पांच साल ऐसी सरकार चलाई है कि विपक्ष भी हम पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता.



अमित शाह ने कहा कि असम में आने वाले विधानसभा चुनाव में आपके पास दो विकल्प हैं. एक विकल्प, नरेन्द्र मोदी और सर्वानंद सोनोवाल के नेतृत्व वाला भाजपा और असम गण परिषद का है. दूसरा विकल्प राहुल गांधी और बदरुद्दीन अजमल के नेतृत्व का है.

उन्होंने कहा कि कुछ ही दिनों में आप सभी को पांच साल असम का शासन किस पार्टी और किस व्यक्ति के हाथ में रहेगा वो तय करना है. आज हम यहां पर असम विधानसभा चुनाव में अगली सरकार किसकी बनेगी, इसके निर्णय के लिए यहां आए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज