होम /न्यूज /राष्ट्र /

असम में एक्टिविस्ट की खुदकुशी पर सीएम ने मांगी माफी, कहा- जिला प्रशासन जिम्मेदार, मैं शर्मिंदा हूं

असम में एक्टिविस्ट की खुदकुशी पर सीएम ने मांगी माफी, कहा- जिला प्रशासन जिम्मेदार, मैं शर्मिंदा हूं

डिब्रूगढ़ में एक्टिविस्ट विनीत बागड़िया की मौत के बाद सीएम हिमंत बिस्व सरमा ने घर जाकर माफी मांगी. (फोटो @himantabiswa)

डिब्रूगढ़ में एक्टिविस्ट विनीत बागड़िया की मौत के बाद सीएम हिमंत बिस्व सरमा ने घर जाकर माफी मांगी. (फोटो @himantabiswa)

असम के डिब्रूगढ़ में मशहूर पशु अधिकार कार्यकर्ता विनीत बागड़िया ने गुरुवार को तीन लोगों पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए अपने घर में फांसी लगा ली थी. शनिवार को उनके घर सांत्वना देने पहुंचे असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने घटना के लिए डिब्रूगढ़ जिला प्रशासन को जिम्मेदार बताया और खुद माफी मांगी. पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

अधिक पढ़ें ...

गुवाहाटीः असम के डिब्रूगढ़ में मशहूर पशु अधिकार कार्यकर्ता विनीत बागड़िया की आत्महत्या के बाद असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा उनके परिवार को सांत्वना देने पहुंचे. इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रशासनिक अधिकारियों को नाकामी का जिम्मेदार बताते हुए खुद माफी मांगी. सीएम सरमा ने कहा कि यह डिब्रूगढ़ जिला प्रशासन की नाकामी है. मैं इस पर शर्मिंदा हूं. उन्होंने घटना के लिए जिम्मेदार लोगों पर कड़ी कार्रवाई का भी भरोसा दिलाया. उन्होंने ट्वीट करके विनीत की मौत पर दुख जताया. ANI के मुताबिक, पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

एनिमल राइट्स एक्टिविस्ट विनीत बागड़िया ने गुरुवार को डिब्रूगढ़ के शनि मंदिर मार्ग स्थित अपने घर में कथित तौर पर फांसी लगा ली थी. रिपोर्ट्स के मुताबिक, मौत से पहले उन्होंने एक वीडियो रिकार्ड किया था, जिसमें बाइदुल्ला खान, संजय शर्मा और निशांत शर्मा पर मानसिक और शारीरिक उत्पीड़न का आरोप लगाया था. विनीत ने कहा था कि एक जमीन के किराए को लेकर ये लोग उनका और उनके परिवार का काफी समय से उत्पीड़न कर रहे हैं.

विनीत बागड़िया एनिमल वेलफेयर पीपुल नाम से एनजीओ चलाते थे. जानवरों की मदद के लिए वह काफी मशहूर थे. उनका डिब्रूगढ़ शहर में एक बार भी है. उनके पिता कैलाश कुमार बागड़िया शहर के नामी चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं. वह आम आदमी पार्टी के नेता हैं और निकाय चुनाव भी लड़ चुके हैं. कैलाश बागड़िया ने तीन लोगों को बेटे की मौत का जिम्मेदार बताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई. इसके बाद पुलिस ने अगले ही दिन बाइदुल्ला खान और निशांत शर्मा को लुमडिंग से गिरफ्तार कर लिया.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विनीत के परिवार और बाइदुल्ला के बीच कई साल से विवाद चल रहा था. विनीत के पिता ने कथित रूप से अपने घर के ग्राउंड फ्लोर पर संजय शर्मा को बिजनेस के लिए किराए पर जगह दी थी. आरोप है कि संजय ने वहां पर बाइदुल्ला को किराए पर रख लिया, जिसने मोटरसाइकल स्पेयर पार्ट्स की दुकान खोल ली. विनीत का परिवार पिछले कई साल से उनसे दुकान खाली कराने की कोशिश कर रहा था. कैलाश ने आरोप लगाया कि ये लोग न तो किराया दे रहे हैं और न ही जगह खाली कर रहे हैं. मामला अदालत तक भी पहुंचा. लेकिन अब विनीत की आत्महत्या से मामला गरमा गया है.

Tags: Assam, Himanta biswa sarma

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर