होम /न्यूज /राष्ट्र /'जिंदगी के 22 साल कांग्रेस में खराब किए,' बीजेपी और अपनी विचारधारा पर बोले असम सीएम सरमा

'जिंदगी के 22 साल कांग्रेस में खराब किए,' बीजेपी और अपनी विचारधारा पर बोले असम सीएम सरमा

Big Story: असम के सीएम हिमंता बिस्व सरमा ने बीजेपी और अपनी विचारधारा पर खुलकर बात की. (File Photo-ANI)

Big Story: असम के सीएम हिमंता बिस्व सरमा ने बीजेपी और अपनी विचारधारा पर खुलकर बात की. (File Photo-ANI)

Delhi News: असम के सीएम हिमंता बिस्व सरमा ने बीजेपी और अपनी विचारधारा पर खुलकर बात की. उन्होंने कहा कि जब वह कांग्रेस स ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

असम के सीएम सरमा ने कहा बीजेपी में आते वक्त विचारधारा नहीं छोड़ी
बीजेपी में करते हैं देश की सेवा, कांग्रेस में करते थे एक परिवार की पूजा
अब वक्त आ गया जब लव जिहाद को कानूनी रूप से परिभाषित किया जाए

नई दिल्ली. असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने कहा है कि कांग्रेस से बीजेपी में आते वक्त उन्होंने किसी भी तरह की अपनी विचारधारा नहीं छोड़ी. बल्कि, उन्होंने कांग्रेस में अपने जीवन के 22 साल बर्बाद किए. उन्होंने कहा कि कांग्रेस में वह केवल एक परिवार की पूजा करते थे, जबकि बीजेपी में वह देश की सेवा कर रहे हैं.

सरमा ने यह बातें एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू में कहीं. एक वक्त कांग्रेस के वफादार सरमा ने साल 2015 में कांग्रेस छोड़ी और तब से लेकर अभी तक वह मंत्री पद पर काबिज रहे और अब राज्य के मुख्यमंत्री हैं. बीजेपी की ही तरह उन्होंने भी दंगों और अपराधों पर कई हिंदुत्व के सिद्धाएं बताए. उन्होंने श्रद्धा वॉलकर मर्डर केस को भी लव जिहाद से जोड़ दिया.

लव जिहाद को दें कानूनी रूप- सीएम
यह पूछने पर की बाकी समुदाए में अगर इस तरह का अपराध होता है तो वह इसे कैसे देखेंगे तो सरमा ने कहा कि लव जिहाद को अब कानूनी रुप से परिभाषित करने का वक्त आ गया है. उन्होंने दावा किया कि उनके राज्य में इस तरह के केस के कई सबूत हैं. इंटरव्यू के दौरान सीएम सरमा ने दंगों की जिम्मेदारी एक विशेष समुदाए पर डालने की भी कोशिश की. उन्होंने कहा कि सामान्य रूप से कोई हिंदू दंगों में लिप्त नहीं होता.

हिंदू दंगों में लिप्त नहीं होता- सीएम सरमा
साल 2002 के गुजरात दंगों को लेकर कोर्ट के फैसले और दंगों के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘मैंने कहा, बहुत कम होता है कि दंगों में हिंदू लिप्त हों. हिंदू जिहाद में भरोसा नहीं करते. हिंदू शांतिप्रिय होते हैं.’ ये पूछने पर, ‘क्या अगर वह कांग्रेस में होते तो यही बात करते,’ सरमा ने कहा, ‘इसमें विचारधारा कहां से बदल गई. मैंने कहा- हिंदू शांतिप्रिय होते हैं. क्या इस बात से कांग्रेस असहमत होगी?’

राहुल गांधी पर किया था ये कमेंट
गौरतलब है कि सीएम सरमा ने पिछले महीने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी की बढ़ी हुई दाढ़ी पर कहा था कि वह सद्दाम हुसैन लग रहे हैं. अच्छा होता अगर वह अपना रूप सरदार पटेल, जवाहर लाल नेहरू और महात्मा गांधी की तरह रखते.

Tags: Himanta biswa sarma, National News

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें