Home /News /nation /

असम: जहरीली शराब से 159 की मौत, गांववालों ने बताया- अभी भी जारी है बिक्री

असम: जहरीली शराब से 159 की मौत, गांववालों ने बताया- अभी भी जारी है बिक्री

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

देशभर में जहरीली शराब पीने से हो रही मौत में असम का नाम भी जुड़ गया, 159 की मौत 200 अस्‍पताल में भर्ती.

    प्रांजल बरुआ

    असम के गोलाघाट और जोरहाट जिले में सोमवार दोपहर तक मरने वालों की संख्या 159 पहुंच गई.  जबकि 200 से ज्‍यादा लोग अस्‍पताल में भर्ती हो गए हैं. मामले में सरकारी एजेंसी और अवैध शराब विक्रेताओं के बीच मिलीभगत के आरोप लग रहे हैं.

    लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि चाय बागान क्षेत्र में लगातार जहरीली शराब की बिक्री की जा रही है. जबकि हर मिनट जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत हो रही है. जानकारी के अनुसार इन दोनों जिलों में ही करीब 200 मरीज अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रहे हैं.

    हलमीरा चाय क्षेत्र में काम करने वाले बलिंदर ओझा ने बताया कि केवल गोलाघाट में 99 लोगों की मौत हो चुकी है. उन्‍होंने बताया कि एक दिन पहले ही उनके पड़ोसी अनुपम टेलेंगा की जहरीली शराब पीने से मौत हुई थी. अपने छोटे भाई की मौत से तनाव में आए उनके भाई महिंदर ने बहुत थोड़ी शराब पी थी. इसके कुछ घंटों बाद ही महिंदर की मौत हो गई.

    इस घटना से नाराज बलिंदर ओझा और गांव वालों ने चाय बागान के इर्द-गिर्द अवैध व विदेशी शराब बिक्री के कुछ ठिकानों पर छापेमारी की. इसके बाद करीबन 100 लीटर शराब बहा दी गई. ऐसी आशंका थी कि यह जहरीली शराब थी. इतना ही नहीं क्षेत्र में करीब 30 ऐसे ठिकाने बने हुए थे. ग्रामीणों ने इस काम में लिप्‍त पांच लोगों को भी पुलिस को सौंपा. बताया जा रहा है कि कई जगहों पर जमीन के नीचे शराब छुपाई गई है.

    गांववालों का दावा है कि पुलिस और प्रशासन हफ्ता लेता है और अवैध शराब पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती.  ग्रामीणों ने दावा किया असम के दो जिलों में आबकारी विभाग के लोगों ने अवैध शराब के विक्रेताओं से पैसे लेकर उन्‍हें सुरक्षा मुहैया करा दी है.

    उधर, ऑल टी ट्राइब स्‍टूडेंट एसोसिएशन (एटीटीएसए) के जनरल सेकेट्ररी धीरज ग्‍वाला ने कहा कि यह बेहद चौंकाने वाला है कि जब सरकार को इस बात का अंदाजा है कि जहरीली शराब से लोगों की मौतें हो रही हैं, फिर भी इसकी बिक्री कैसे जारी है. उनके अनुसार जोरहाट क्षेत्र में करीब 78 लोगों की जान जा
    चुकी है.

    विपक्षी पार्टियों कांग्रेस व असम गण परिषद ने विधानसभा सत्र में इस मसले को उठाया. पूर्व मुख्‍यमंत्री  तरुण गोगोई समेत कई कांग्रेसी नेताओं ने विधानसभा में प्रदर्शन किया. उन्‍होंने इसे भाजपा सरकार की विफलता का नतीजा बताया.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Assam, BJP, Congress, Himanta biswa sarma, Illegal liquor, North East, Sarbananda Sonowal

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर