असम डबल रेप केस: पुलिस से बचने के लिए आरोपी ने की भागने की कोशिश, SP ने चलाई गोली

कोकराझार के पुलिस अधीक्षक प्रतीक थुबे ने संवाददाताओं को बताया, ''उसने हथकड़ी तोड़ने का प्रयास भी किया और भागने लगा.

पुलिस अधिकारी ने बताया, ''पुलिस आरोपी को लेकर मौके पर जा रही थी, जहां उसने एक किशोरी का मोबाइल फोन छिपाया था. तभी उसने अचानक वहां पड़ा 'दाओ' (लोहे का धारदार हथियार) उठा कर एक कांस्टेबल पर हमला कर दिया.''

  • Share this:
    कोकराझार (असम). असम में हाल ही में हुए दोहरे बलात्कार एवं हत्या मामले (Assam Double Rape and Murder Case) के प्रमुख आरोपियों में से एक, गुरुवार को कोकराझार जिले में भागने की कोशिश के दौरान पुलिस की गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गया.

    पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि भागने की कोशिश कर रहे आरोपी के हमले में एक कांस्टेबल भी घायल हो गया. उन्होंने बताया कि यह घटना उस वक्त हुई जब पुलिसकर्मी आरोपी को लेकर बेदलांगबारी के जंगलों में जा रहे थे, जहां उसकी निशानदेही पर दो मृतक किशोरियों में से एक का मोबाइल फोन बरामद किया जाना था.

    धारदार हथियार से किया कांस्टेबल पर हमला
    अधिकारी ने बताया, ''पुलिस आरोपी को लेकर मौके पर जा रही थी, जहां उसने एक किशोरी का मोबाइल फोन छिपाया था. तभी उसने अचानक वहां पड़ा 'दाओ' (लोहे का धारदार हथियार) उठा कर एक कांस्टेबल पर हमला कर दिया.''

    कोकराझार के पुलिस अधीक्षक प्रतीक थुबे ने संवाददाताओं को बताया, ''उसने हथकड़ी तोड़ने का प्रयास भी किया और भागने लगा. इस पर पुलिस ने आरोपी पर दो गोलियां चलायीं जिससे वह घायल हो गया. पहले उसे कोकराझार के सिविल अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे बरपेटा मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया. कांस्टेबल की हालत खतरे से बाहर है जबकि आरोपी की स्थिति नाजुक है.''

    जानिए क्या है पूरा मामला?
    इस महीने की 12 तारीख को दो बहनों के शव जिले में स्थित उनके गांव के पास एक पेड़ से लटके मिले थे. दोनों की उम्र क्रमश: 14 एवं 16 साल थी. मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने पीड़ितों के परिजनों से मुलाकात की और कहा था कि सरकार इन दोनों लड़कियों की मौत को हल्के में नहीं लेगी.

    ये भी पढ़ेंः- कोरोनाः जुलाई में नोवावैक्स वैक्सीन का बच्चों पर ट्रायल, सीरम इंस्टीट्यूट की है बड़ी तैयारी



    उन्होंने मामले की गहन जांच के आदेश दिए. विशेष पुलिस महानिदेशक एल आर बिश्नोई ने विशेष जांच दल का गठन किया और सात लोग गिरफ्तार किए गए. इनमें से तीन मुख्य संदिग्ध हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.