असम: करीमगंज में कार में EVM मिलने के बाद बूथ पर चुनाव रद्द, 4 अधिकारियों को भी चुनाव आयोग ने किया सस्पेंड

असम के करीमगंज में एक बोलेरो में EVM बरामद हुई है.

असम के करीमगंज में एक बोलेरो में EVM बरामद हुई है.

Assam assembly election 2021: असम विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में बृहस्पतिवार को 77.21 प्रतिशत मतदान हुआ. दूसरे चरण के चुनाव में 13 जिलों में 10,592 मतदान केंद्रों पर मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 2, 2021, 12:43 PM IST
  • Share this:
करीमगंज. असम (Assam) के करीमगंज विधानसभा क्षेत्र के जिस बूथ पर कथित बीजेपी विधायक की कार में ईवीएम मिले थे वहां चुनाव रद्द कर दिया गया है. इसके अलावा चुनाव आयोग (Election Commission) ने इस बूथ पर चुनाव से जुड़े चार अधिकारियों को भी सस्पेंड कर दिया है. इस मामले को लेकर चुनाव आयोग ने केस दर्ज करवाया है. बता दें कि गुरुवार को चुनाव के दौरान कार का वीडियो वायरल होने के बाद हिंसा फैल गई थी. दावा किया जा रहा है कि ये कार बीजेपी के मौजूदा विधायक कृष्णेंदु पॉल की पत्नी की है. चुनाव आयोग ने जिला निर्वाचन अधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट भी मांगी है.

गुरुवार शाम असम के करीमगंज इलाके में हिंसा तब भड़क गई, जब स्थानीय लोगों को लगा कि चुनाव अधिकारी बीजेपी विधायक कृष्णेंदु पॉल की गाड़ी में ईवीएम ले जा रहे हैं. पॉल के परिजन के नाम पर रजिस्टर्ड महिंद्रा बोलेरो में ईवीएम मिली थी. वोटिंग के बाद मशीन को स्ट्रॉन्ग रूम में ले जाया जा रहा था. हालांकि, जिला निर्वाचन अधिकारी की तरफ से दाखिल की गई शुरुआती रिपोर्ट में बताया गया है कि पोलिंग पार्टी को 'इस बात की जानकारी नहीं थी कि वे जिस गाड़ी में सफर कर रहे हैं, वह बीजेपी विधायक की थी.'



क्यों बैठे दूसरी कार में?
कहा जा रहा है कि इंदिरा एमवी स्कूल के मतदान केंद्र के अधिकारी स्ट्रॉन्ग रूम की तरफ जा रहे थे. इसी दौरान उनकी गाड़ी खराब हो गई. इसके बाद वे चुनाव अधिकारियों से संपर्क नहीं बना पाए और पास से गुजर रही गाड़ी से लिफ्ट मांग ली. जबकि, गाड़ी चुनाव उम्मीदवार और पठारखंडी के विधायक की थी. चुनाव आयोग के अधिकारियों के अनुसार, जिला निर्वाचन अधिकारी की रिपोर्ट मे कहा गया है कि ईवीएम में सील लगी हुई थी.

ये भी पढ़े:- मदुरै में PM ने दिया- 'सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास' का संदेश

आयोग ले एक्शन



इस घटना को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि चुनाव आयोग को इस तरह की शिकायतों पर निर्णायक कार्रवाई करनी चाहिए. कांग्रेस महासचिव ने कहा कि सभी राष्ट्रीय दलों द्वारा ईवीएम की जरूरतों के उपयोग का पुनर्मूल्यांकन किया जाना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज