असम: बलात्कार और हत्या के बाद लटकाए गए थे दोनों नाबालिगों के शव, पुलिस ने सुलझाई गुत्थी

पुलिस ने दावा किया है कि इन रहस्यमयी हत्याओं की गुत्थी सुलझा ली गई है. (सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

Assam Teenage Girls Murder Case: पुलिस ने कहा, 'उनका बलात्कार किया गया, हत्या की गई और उसके बाद घटना को आत्महत्या (Suicide) की तरह दिखाने के लिए उन्हें पेड़ से लटका दिया गया.' इस मामले में अब तक सात लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है.

  • Share this:
    दिसपुर. असम के कोकराझार (Kokrajhar) जिले में बीते शनिवार को पुलिस ने दो नाबालिग लड़कियों के शवों के पेड़ से लटके होने की जानकारी दी थी. अब पुलिस ने दावा किया है कि इन रहस्यमयी हत्याओं की गुत्थी सुलझा ली गई है. उन्होंने मंगलवार को बताया कि लड़कियों के साथ पहले बलात्कार (Rape) की वारदात को अंजाम दिया गया था और घटना को आत्महत्या की तरह दिखाने के लिए शवों को पेड़ से लटका दिया गया था.

    एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने कहा, 'उनका बलात्कार किया गया, हत्या की गई और उसके बाद आत्महत्या की तरह दिखाने के लिए पेड़ से लटका दिया गया.' इस मामले में अब तक सात लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. रिपोर्ट में कोकराझार के एसपी प्रतीक विजय कुमार थुबे के हवाले से लिखा, 'हमने इस मामले में सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इनमें से तीन ने नाबालिगों के साथ दुष्कर्म किया था और हत्या के बाद उन्हें पेड़ से लटका दिया. उन्होंने गुनाह कुबूल कर लिया है.'

    यह भी पढ़ें: असम में दो लड़कियों के बलात्कार और हत्या के मामले में पुलिस की छानबीन जारी, अब तक सात लोग गिरफ्तार

    उन्होंने कहा, 'रविवार को एक स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम गठित की गई थी और 72 घंटों के भीतर हमने मामला सुलझा लिया.' राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा ने भी ट्वीट के जरिए आरोपियों के गिरफ्तार होने की जानकारी दी थी. उन्होंने लिखा, 'दो नाबालिग आदिवासी लड़कियों के बलात्कार और हत्या की गुत्थी सुलझ गई है. IGP ने मुझे जांच की जानकारी दी. मैंने रविवार उनके घरों का दौरा किया. यह देखकर बहुत संतुष्टि मिल रही है कि अपराधियों की पहचान हो गई है.'

    सीएम हेमंत बिस्वा शर्मा ने ट्वीट कर आरोपियों की गिरफ्तारी की जानकारी दी थी.


    15 जून को किए एक ट्वीट में शर्मा ने लिखा था, 'कोकराझार जिले में दो नाबालिग आदिवासी लड़कियों के बलात्कार और हत्या के मामले में मुजम्मिल शेख, नजीबुल शेख और फारूक रहमान गिरफ्तार हो चुके हैं. कथित तौर पर लड़कियों के साथ जघन्य अपराध किया गया था, जहां पहले उनका गला दबाकर हत्या की गई और शरीर को पेड़ से लटका दिया. असम पुलिस ने सराहनीय कार्य किया.'

    एनडीटीवी की 13 जून को प्रकाशित रिपोर्ट में पुलिस के हवाले से बताया गया था कि दोनों पीड़ित रिश्तेदार थीं. लड़कियों के परिवार वालों ने बलात्कार और हत्या के आरोप लगाए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.