असम में घट रहा है बाढ़ का जलस्तर, बिहार में इतनी जल्दी नहीं मिलेगी राहत

असम में घट रहा है बाढ़ का जलस्तर, बिहार में इतनी जल्दी नहीं मिलेगी राहत
फोटो साभारः ANI

असम (Assam) में बाढ़ का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. रविवार को ब्रह्मपुत्र नदी (River Brahmaputra) का जल स्तर अब गुवाहाटी क्षेत्र में फैलने लगा है. केंद्रीय जल आयोग के सादिक-उल-हक ने कहा, " बाढ़ का पानी धीरे-धीरे घट रहा है. यह वर्तमान में खतरे के स्तर से 49.52 सेमी नीचे बह रहा है. कल इसके और घटने की उम्मीद है."

  • Share this:
गुवाहाटी/नई दिल्ली. असम (Assam) में बाढ़ का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. रविवार को ब्रह्मपुत्र नदी  (River Brahmaputra) का जल स्तर अब गुवाहाटी क्षेत्र में फैलने लगा है. केंद्रीय जल आयोग के सादिक-उल-हक ने कहा, " बाढ़ का पानी धीरे-धीरे घट रहा है. यह वर्तमान में खतरे के स्तर से 49.52 सेमी नीचे बह रहा है. कल इसके और घटने की उम्मीद है."

हालांकि बिहार में गंड़क नदी का जल स्तर अभी कम नहीं हो रहा है. अनुमान लगाया जा रहा है कि इतनी जल्दी बिहार में बाढ़ का जलस्तर कम नहीं होगा. इसके साथ ही मौसम विभाग ने पूर्वोत्तर राज्यों में आने वाले दिनों में भी बारिश का अनुमान जताया है, जबकि देश के उत्तरी और पश्चिमी हिस्सों में भी हल्की बारिश का अनुमान है.

इससे पहले रिपोर्ट में कहा गया था कि ब्रह्मपुत्र नदी गुवाहाटी, तेजपुर, धुबरी और ग्वालपाड़ा शहरों में खतरे के निशान के ऊपर बह रही थी. इसकी सहायक नदियां धनसिरी, जिया भराली, कोपिली, बेकी ओर संकोश भी विभिन्न स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही थी.



असम में 123 लोगों की बाढ़ से मौत
2 महीनों से बाढ़ से प्रभावित असम में बाढ़ और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या 123 तक पहुंच गई है. वहीं बिहार में अब तक बाढ़ से 10 लोगों की मौत हो चुकी है. सरकारी रिपोर्ट के अनुसार असम के 27 जिलों में करीब 26.38 लाख प्रभावित हैं और बाढ़ की वजह से 97 जबकि भूस्खलन की वजह से 26 लोगों की मौत हुई है.

बिहार में 10 लाख लोग हुए प्रभावित
बिहार में बाढ़ से 10 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं. सरकारी बुलेटिन के अनुसार 10 जिलों के 10.61 लाख लोग प्रभावित हैं. अधिकारियों ने बताया कि एनडीआरएफ की 13 और एसडीआरएफ की आठ टीमें लोगों के बचाव अभियान में शामिल है. बाढ़ प्रभावित जिलों में पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज और खगड़िया शामिल हैं. बागमती, बुढ़ी गंडक, कमलाबलान, लालबकैया, अधवारा, खिरोई, महानंदा और घाघरा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. एक अधिकारी ने बताया कि सुगौली-नरकटियागंज के बीच बाढ़ के पानी की वजह से ट्रेन सेवा निलंबित कर दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading