Assembly Banner 2021

पीएम मोदी ने कहा- ममता बनर्जी ने बंगाल के लोगों को धोखा दिया, लोगों में परिवर्तन की उम्मीद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलकाता के ब्रिगेड परेड मैदान में रैली को संबोधित किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोलकाता के ब्रिगेड परेड मैदान में रैली को संबोधित किया.

Assembly Election LIVE Updates: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कोलकाता के ऐतिहासिक ब्रिगेड परेड मैदान में रैली को संबोधित किया वहीं दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) गैस की बढ़ती कीमतों के खिलाफ उत्तरी बंगाल में पदयात्रा निकाल रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 7, 2021, 11:35 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार को कोलकाता में एक रैली के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (West Bengal's CM Mamata Banerjee) पर जमकर निशाना साधा और आरोप लगाया कि बंगाल ने वाम शासन के बाद परिवर्तन लाने के लिए बनर्जी पर भरोसा जताया था लेकिन उन्होंने राज्य के लोगों को ‘धोखा’ दिया और उनका अपमान किया. पीएम मोदी ने ममता पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने जनता की ''दीदी'' बनने के बजाय अपने ''भतीजे'' की ''बुआ'' बनना पसंद किया.

भाजपा ममता बनर्जी पर आरोप लगाती रही है कि वह डायमंड हार्बर से सांसद और उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी को अगला मुख्यमंत्री बनाने के प्रयास में जुटी हैं. मोदी ने तृणमूल कांग्रेस प्रमुख पर हमला करते हुए कहा, '' आपने बंगाल के उन लोगों को धोखा दिया और अपमान किया, जिन्होंने भरोसा किया था कि वाम शासन के बाद आप परिवर्तन लाएंगी. आपने उनकी उम्मीद और सपनों को चकनाचूर कर दिया.'' उन्होंने आरोप लगाया कि बनर्जी ने उन लोगों को नजरअंदाज कर, भाई-भतीजावाद को बढ़ावा दिया, जोकि उन्हें प्यार से ''दीदी'' कहते हैं.

'भारत के सभी लोग मेरे मित्र'
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और बनर्जी जैसे प्रतिद्वंद्वी नेताओं पर पलटवार करते हुए मोदी ने कहा कि वह मित्रता का मूल्य समझते हैं. कई विरोधी नेता मोदी पर कुछ खास उद्योगपति मित्रों का पक्ष लेने का आरोप लगाते रहे हैं.
प्रधानमंत्री ने कहा, ''भारत के सभी 130 करोड़ लोग मेरे मित्र हैं, मैं उनके लिए कार्य करता हूं. मैंने बंगाल के अपने मित्रों को 90 लाख गैस कनेक्शन प्रदान किए. मेरा चाय से विशेष लगाव है और बंगाल के चाय श्रमिक मेरे मित्र हैं , जिनके लिए मैंने सामाजिक सुरक्षा योजना लागू की है.''



मोदी कई बार इस बात का उल्लेख कर चुके हैं कि बचपन के दिनों में वह रेलवे स्टेशन और ट्रेनों में चाय बेचा करते थे. उन्होंने अंदरूनी-बाहरी की बहस को बढ़ावा देने के लिए भी ममता बनर्जी पर निशाना साधा.

प्रधानमंत्री ने कहा, '' जब लेनिन और मार्क्स में भरोसा करने वाले (वाम दलों के संदर्भ में) और तृणमूल कांग्रेस जैसी पार्टी बंगाल के अंदरूनी दल हैं तो भाजपा बाहरी लोगों की पार्टी कैसे हो सकती है? जिसके प्रेरणास्त्रोत स्वयं श्यामा प्रसाद मुखर्जी थे.'' उन्होंने कहा कि वह पश्चिम बंगाल में असली परिवर्तन लाने को प्रतिबद्ध हैं जहां हर वर्ग का विकास हो और घुसपैठ रोकी जाए.

'हम बनाएंगे सोनार बांग्ला'
मोदी ने कहा कि असली परिवर्तन तभी होगा, जब युवाओं एवं युवतियों को नौकरियां और बेहतर शिक्षा मिलेगी. साथ ही निवेश आएगा और राज्य के लोगों को काम करने के लिए अन्य राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा. उन्होंने कहा, '' भारत माता के आशीर्वाद से हम राज्य को सोनार बांग्ला बनाएंगे.''

प्रधानमंत्री ने कहा कि बनर्जी खुद को बंगाल की बेटी की तरह पेश करना चाहती हैं, वह भारत की बेटी कब थीं? तृणमूल कांग्रेस के चुनावी नारे ''खेला होबे'' पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि अब तृणमूल कांग्रेस का खेल खत्म और विकास शुरू. प्रधानमंत्री ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस और वाम-कांग्रेस का गठबंधन एक तरफ है और बंगाल की जनता दूसरी तरफ है.

कांग्रेस के साथ गठबंधन करने को लेकर वाम पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, '' वाम दलों ने एक समय में नारा दिया था कि कांग्रेस का काला हाथ तोड़ो. हालांकि, अब काला हाथ सफेद हो चुका है और वाम ने कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लिया है.''

उन्होंने ममता बनर्जी पर राज्य में लोकतंत्र को तबाह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस के राज में भ्रष्टाचार बढ़ रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज