Assembly Banner 2021

कांग्रेस ने असम में खेला चुनावी दांव, सरकारी नौकरियों में महिलाओं को 50% आरक्षण का वादा

असम के तेजपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करतीं प्रियंका गांधी. (INCIndia/2 March 2021)

असम के तेजपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करतीं प्रियंका गांधी. (INCIndia/2 March 2021)

Assam Assembly Elections 2021: राज्य में तीन चरणों में- 27 मार्च, एक अप्रैल और छह अप्रैल- को मतदान होगा. मतगणना दो मई को होगी.

  • Share this:

गुवाहाटी. कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को कहा कि असम में अगर ‘महाजोत’ (महागठबंधन) सत्ता में आता है तो सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए 50 फीसदी आरक्षण सुनिश्चित किया जाएगा. प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की प्रमुख सुष्मिता देव ने कहा कि कांग्रेस नीत गठबंधन महिला और युवाओं के उत्थान पर अधिक ध्यान देगा.


उन्होंने कहा, 'जब कांग्रेस नीत महागठबंधन सरकार बनाएगा तो हम महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण लागू करेंगे. जो हम सबसे पहले करेंगे, उनमें से एक यह है.' देव ने कहा कि कांग्रेस और महागठबंधन जवाबदेही तथा नौकरी की गारंटी में यकीन रखता है.


उन्होंने भाजपा नीत राज्य सरकार की सीधे लाभ स्थानांतरण से संबंधित विभिन्न योजनाओं पर तंज करते हुए कहा, 'असम की महिलाओं और युवाओं को खैरात नहीं चाहिए. वे नौकरी के मौके चाहते हैं और राज्य की अर्थव्यवस्था में योगदान देना चाहते हैं.'


असम विधानसभा चुनावों के तहत 27 मार्च को होने वाले प्रथम चरण के मतदान के लिए 2 मार्च को अधिसूचना जारी कर दी गई है. इसके साथ ही उम्मीदवारों के नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. प्रथम चरण का मतदान 11 जिलों में 47 विधानसभा क्षेत्रों में होगा.



नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि नौ मार्च है, जबकि नामांकन पत्रों की जांच इसके अगले दिन की जाएगी. इस चरण में नाम वापस लेने की अंतिम तिथि 12 मार्च है. राज्य में तीन चरणों में -27 मार्च, एक अप्रैल और छह अप्रैल - को मतदान होगा. मतगणना दो मई को होगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज