लाइव टीवी

55 हजार किमी/घंटे की रफ्तार से धरती की ओर बढ़ रहा एस्‍ट्रॉयड, पृथ्वी से टकराने की खबरें हैं गलत

News18Hindi
Updated: February 14, 2020, 1:29 PM IST
55 हजार किमी/घंटे की रफ्तार से धरती की ओर बढ़ रहा एस्‍ट्रॉयड, पृथ्वी से टकराने की खबरें हैं गलत
55 हजार किमी/घंटे की रफ्तार से धरती की ओर बढ़ रहा एस्‍ट्रॉयड

नासा (NASA) के सेंटर फॉर नियर अर्थ ऑब्जेक्ट (सीएनईओएस) के मुताबिक, पृथ्वी के लिए काफी खतरनाक माना जाने वाला एस्ट्रॉयड शनिवार को शाम 5 बजे (भारतीय समयानुसार) धरती के रास्ते में आएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2020, 1:29 PM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. दुनिया भर में इस बात को लेकर काफी चर्चा है कि शनिवार का दिन धरती (Earth) के लिए काफी खतरनाक हो सकता है. खबरों के मुताबिक अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी (NASA) ने इस बात के संकेत दिए हैं कि एक विशालकाय एस्ट्रॉयड (क्षुद्रग्रह) काफी तेजी से धरती की ओर बढ़ रहा है. बुर्ज खलीफा से भी बड़ा ये एस्ट्रॉयड शनिवार शाम 5 बजे धारती के बेहद करीब से गुजरेगा. हालांकि नासा ने ही अब साफ किया है कि धरती को इससे कोई नुकसान नहीं होगा.

नासा के सेंटर फॉर नियर अर्थ ऑब्जेक्ट (सीएनईओएस) के मुताबिक, पृथ्वी के लिए काफी खतरनाक माना जाने वाला एस्ट्रॉयड शनिवार को शाम 5 बजे (भारतीय समयानुसार) धरती के रास्ते में आएगा. नासा ने बताया है कि इस तरह के एस्ट्रॉयड को धरती के लिए काफी खतरनाक माना जाता है क्योंकि यह पृथ्वी के काफी करीब से गुजरता है. नासा ने बताया कि इसे पोटेंशली हजार्डस एस्ट्रॉयड (पीएचए) माना जाता है.

नासा ने अब स्पष्ट किया है कि बुर्ज खलीफा से भी बड़े साइज का ये एस्ट्रॉयड पृथ्वी से 57 लाख किलोमीटर से दूर से गुजरेगा. इसलिए इससे डरने की जरूरत नहीं है. हालांकि नासा ने ये भी बताया कि अगर इतना बड़ा एस्ट्रॉयड पृथ्वी से टकरा जाता है तो परमाणु हमले से भी ज्यादा तबाही मचा सकता है. नासा ने इस एस्ट्रॉयड का नाम 2002-PZ39 रखा है.

इसे भी पढ़ें :- नासा का यह स्पेसक्राफ्ट जल्द ही खींचेगा सूर्य के ध्रुवों की पहली तस्वीर



57 लाख किमी दूर से गुजरेगा
एस्ट्रॉयड वॉच ने स्पष्ट किया है कि यह भले ही धरती ओर तेजी से बढ़ रहा हो लेकिन इसका खतरा नहीं है. एस्ट्रॉयड वॉच के मुताबिक चिंता करने की कोई बात इसलिए नहीं है क्योंकि वह धरती से 57 लाख किलोमीटर दूर से गुजरेगा. मतलब की एस्ट्रॉयड चांद की दूरी से 15 गुना ज्यादा दूर से निकलेगा. धरती से चांद की दूरी 3,84,000 किमी है.

इसे भी पढ़ें :- चांद पर जाने के लिए अंतरिक्ष यात्री खोज रहा नासा, आप में है ये काबिलियत तो कर सकते हैं अप्लाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 1:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर