अपना शहर चुनें

States

'अम्फान' तूफान के दौरान बंगाल में तैनात NDRF के 50 जवान कोरोना संक्रमित

एनडीआरएफ के 50 जवान कोरोना पॉजिटिव.
एनडीआरएफ के 50 जवान कोरोना पॉजिटिव.

Coronavirus: पिछले महीने चक्रवाती तूफान ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) में भारी तबाही मचाई थी. तूफान से पहले और उसके बाद राहत और बचाव कार्य के लिए ओडिशा में कार्यरत जवानों को पश्चिम बंगाल भेजा गया था.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल/एनडीआरएफ (NDRF) मुख्‍यालय में सोमवार को उस वक्‍त हड़कंप मच गया जब भारी संख्‍या में जवानों के कोरोना से संक्रमित होने का पता चला. ओडिशा के कटक में कार्यरत लगभग 50 जवानों का कोरोना टेस्‍ट पॉजिटिव आया. ये वे जवान हैं जो तूफान 'अम्‍फान' के राहत और बचाव कार्य के लिए ओडिशा से पश्चिम बंगाल भेजे गए थे.

राहत और बचाव कार्य के लिए गए थे पश्चिम बंगाल
दरअसल, पिछले महीने चक्रवाती तूफान ने पश्चिम बंगाल में भारी तबाही मचाई थी. तूफान से पहले और उसके बाद राहत और बचाव कार्य के लिए ओडिशा में कार्यरत जवानों को पश्चिम बंगाल भेजा गया था. वहां पर अतिरिक्त जवानों को तैनात करवाया गया था. जिससे वहां राहत और बचाव कार्य को जल्द से जल्द अंजाम दिया जा सके. राहत और बचाव कार्य के बाद ओडिशा लौटे कुछ जवानों की तबीयत खराब होने की जानकारी मिली.

190 में से 50 जवानों की रिपोर्ट पॉजिटिव
इसके बाद कुछ जवानों का कोरोना टेस्‍ट कराया गया, जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. विभाग ने पश्चिम बंगाल से लौटे सभी जवानों को कोरोना जांच कराने का आदेश दिया. जब रिपोर्ट आई तो विभाग के होश उड़ गए. 190 जवानों का टेस्‍ट कराया गया था, जिसमें से 50 जवानों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई.



अब उन जवानों के परिजनों की भी जांच कराई जा रही है और संक्र‍मित जवानों को हर संभव मदद का भरोसा दिया गया है. इसके साथ ही परिजनों को भी कहा जा रहा है कि अगर कोरोना के किसी भी तरह के लक्षण दिखे तो वे तत्‍काल जांच कराएं.



50 संक्रमित जवानों में कोरोना के लक्षण नहीं
एनडीआरएफ के महानिदेशक सत्य नारायण प्रधान ने ट्वीट किया, 'पश्चिम बंगाल में आए चक्रवात अम्‍फान के राहत और बचाव कार्य से लौटे ओडिशा के 190 एनडीआरएफ जवानों का कोरोना टेस्‍ट कराया गया. जिसमें से 50 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. चौंकाने वाली बात ये है कि इन जवानों में कोरोना के लक्षण नहीं हैं. सभी संक्रमित जवान निगरानी में है.

बता दें कि बंगाल की खाड़ी से उठे अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में जमकर तबाही मचाई थी. चक्रवात की वजह से 86 लोग मारे गए थे. अकेले पश्चिम बंगाल में 72 मौतें हुई थी. वहीं लाखों लोग बेघर हो गए थे. अम्फान के बाद ओडिशा और बंगाल के कई इलाकों में व्यवस्थाएं अब भी ठीक नहीं हो पाई है. कई इलाके अब भी बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए जूझ रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

गुजरात: एक दिन में कोरोना के 477 केस और 31 की मौत, कुल आंकड़ा 20,574 पहुंचा

आत्मनिर्भर भारत: पुणे की इस दुकान में अलग रखे जा रहे स्वदेशी और विदेशी उत्पाद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज