मुंबई मेट्रो प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन पर बोले PM मोदी, ISRO के वैज्ञानिकों के साहस से सीखें

पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा, "बेंगलुरू में, मैं रात भर इसरो के अपने वैज्ञानिक (Scientists) साथियों के साथ रहा. उन्होंने जो हौसला दिखाया है, उसे देखकर मैं बहुत प्रभावित हूं."

News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 6:07 PM IST
मुंबई मेट्रो प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन पर बोले PM मोदी, ISRO के वैज्ञानिकों के साहस से सीखें
मेट्रो प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन पर बोले PM, ISRO के वैज्ञानिकों के साहस से सीखें.
News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 6:07 PM IST
मुंबई. मेक इन इंडिया (Make in India) के तहत बने स्वदेश निर्मित मेट्रो कोच के शुभारंभ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने नागरिकों से इसरो वैज्ञानिकों के साहस से सीखने को कहा. लैंडर विक्रम का संपर्क टूटने के बावजूद उन्होंने उन्होंने विश्वास जताया कि भारत का चांद पर पहुंचने का लक्ष्य जरूर पूरा होगा. पीएम मोदी  ने आज मेट्रो लाइन 10, 11 और 12 की आधारशिला रखी. इसके साथ ही मेट्रो भवन का भूमि पूजन करने के साथ ही मेक इन इंडिया (Make in India) के तहत बने पहले मेट्रो कोच (Metro Coach) का भी उद्घाटन किया.

पीएम मोदी ने कहा, 'बेंगलुरू में, मैं रात भर इसरो के अपने वैज्ञानिक साथियों के साथ रहा. उन्होंने जो हौसला दिखाया है, उसे देखकर मैं बहुत प्रभावित हूं. अपने लक्ष्य के लिए कैसे दिन-रात एक कर दिया जाता है, कैसे विपरीत से विपरीत परिस्थिति में भी, बड़ी से बड़ी चुनौती में भी पूरी तन्मयता के साथ कैसे अपने लक्ष्य को प्राप्त किया जाता है, ये इसरो के हमारे वैज्ञानिकों-इंजीनियरों से सीखा जा सकता है.'

देश 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनोमी की तरफ बढ रहा है

इस दौरान पीएम मोदी ने सभी को गणेशोत्‍सव की शुभकामनाएं दीं. साथ ही कहा कि मुंबई की गति ने देश को गति दी है. यहां लोग गर्व से कहते हैं कि मी मुंबईकर. फडणवीस सरकार ने एक-एक प्रोजेक्ट के लिए मेहनत की है. देश जब 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनोमी की तरफ बढ रहा है तो अपने शहर को 21वीं सदी का आधुनिक शहर बनाना होगा.

जिन लाइनों पर मेट्रो दौड़ेगी उसके कोच मुंबई में बनेंगे. इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर से रोजगार बढ़ता है. मेट्रो से 10 हजार इंजीनियर और दूसरे रोजगार बढ़ेंगे. इसके साथ ही बप्पा की विदाई के दौरान प्लास्टिक और वेस्ट हमारे समंदर में जाता है. इस बार कोशिश करनी है कि जो जल प्रदूषण बढाता है, उसे समंदर में नही डालना है. देश को प्लास्टिक मुक्त करने में हम सबको काम करना है.

मुंबई में बनेगा 337 किलोमीटर लंबा सात कॉरिडोर

गौरतलब है कि देश की वित्तीय राजधानी मुंबई राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के करीब एक दशक के बाद आधुनिक सर्वाजनिक परिवहन व्यवस्था को गति दे रही है. मुंबई में अगले दस साल में 1.2 लाख करोड़ रुपये की लागत से 337 किलोमीटर लंबे सात कॉरिडोर बनाने की योजना है.
Loading...

ये भी पढ़ें: जानिए क्यों इसरो के चंद्रयान 2 मिशन को फेल नहीं कहा जा सकता?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 7, 2019, 2:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...