आया राम गया राम: इस राज्य में चुनाव से पहले नेताओं में मची भगदड़

सांसद और विधायक सहित कई नेता अब आगामी चुनावों में टिकट न मिलने के डर से या हार के डर से पार्टी बदल रहे हैं.

पीटीआई
Updated: March 17, 2019, 7:32 PM IST
आया राम गया राम: इस राज्य में चुनाव से पहले नेताओं में मची भगदड़
News18 Creative
पीटीआई
Updated: March 17, 2019, 7:32 PM IST
लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए सभी प्रमुख दल, उम्मीदवारों पर आखिरी मुहर लगाने में व्यस्त हैं. इन सबके बीच ओडिशा में 'आया राम गया राम संस्कृति' गति पकड़ रही है. सांसद और विधायक सहित कई नेता अब आगामी चुनावों में टिकट न मिलने या हार के डर से पार्टी बदल रहे हैं.

जिन लोगों के रिश्ते राज्यों के नेतृत्व से खराब हो गए थे वे भी एक पार्टी से दूसरी पार्टी में जा रहे हैं. नवरंगपुर से मौजूदा सांसद बलभद्र माझी ने सत्तारूढ़ दल पर 'उपेक्षा' का आरोप लगाते हुए बीजेडी से इस्तीफा दे दिया. इसके 36 घंटे के भीतर वह बीजेपी में शामिल हो गए.

यह भी पढ़ें: जब पद्म विभूषण तीजन बाई के सम्मान में राष्ट्रपति भवन ने छत्तीसगढ़ी में किया ट्वीट



ओडिशा के एससी और एसटी विकास मंत्री रमेश चंद्र माझी को नवरंगपुर लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाने की अटकलों के बीच बलभद्र ने बीजेडी छोड़ दी. बीजेडी के दो पूर्व नेताओं- केंद्रपाड़ा के पूर्व सांसद बैजयंत पांडा और पूर्व मंत्री दामोदर राउत भी मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को सत्ता से हटाने के लिए बीजेपी में शामिल हो गए हैं.

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान में तालीबान का हमला, रातभर में पुलिस के 22 जवानों की हत्या

पांडा ने बीजेडी से इस्तीफा दे दिया था, जबकि राउत को बहुत पहले सत्तारूढ़ पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था. वह चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हुए थे.

राउत ने कहा, 'मैंने जनता परिवार के साथ 45 साल के रिश्ते को तोड़ दिया है क्योंकि मुझे बिना किसी कारण के निकाल दिया गया. मुझे लगता है कि बीजेपी 19 साल से सत्ता में मौजूद नवीन पटनायक सरकार को हटाने के लिए संकल्पित है.
Loading...

यह भी पढ़ें:  कांग्रेस ने अपनाया 'मुन्‍नाभाई' का अवतार, इस इमोजी के जरिए BJP को दे रही ताने

कांग्रेस के सालेपुर विधायक प्रकाश बेहरा ने शनिवार को 'राज्य इकाई द्वारा लापरवाही किए जाने' का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया. हालांकि राज्य चुनाव समिति द्वारा साल 2019 के चुनाव में उम्मीदवार बनने के लिए बेहरा के नाम को मंजूरी दी गई थी, लेकिन उन्होंने इससे पहले पार्टी छोड़ दी.

यह भी पढ़ें: किरण खेर ने यह वीडियो ट्वीट कर कहा- #MainBhiChowkidar हूं

बेहरा रविवार को दिल्ली में बीजेपी में शामिल हो गए. कांग्रेस के तीन अन्य विधायकों ने भी ओडिशा में कांग्रेस छोड़ दी. इसमें नवकिशोर दास (झारसुगुड़ा), जोगेश सिंह (सुंदरगढ़) और कृष्ण चंद्र सागरिया (कोरापुट) शामिल हैं. दास और सिंह बीजेडी में शामिल हो गए, जबकि सागरिया बहुजन समाज पार्टी में चले गए.

यह भी पढ़ें: अरुणाचल चुनाव: सीएम पेमा खांडू को इस बार चुनौती देगा ये बौद्ध भिक्षु

बालासोर जिले के नीलगिरि से बीजेडी विधायक सुकांत कुमार नायक ने भी पार्टी पर उपेक्षा का आरोप लगाया. उनके करीबी सूत्रों ने कहा कि वह बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. नायक के इस्तीफे के बाद बीजेडी ने नीलगिरी बीजेपी नेता सुषमा बिस्वाल को पार्टी में शामिल कर लिया.

यह भी पढ़ें: बीजेपी MLA बोले- कांग्रेस नेता दिगंबर कामत बीजेपी में होंगे शामिल, सीएम बनाने पर फैसला हाईकमान करेगा

इससे पहले बीते दिनों कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री हेमानंद बिस्वाल की बेटी सुनीता बिस्वाल ने पार्टी छोड़ दी और एआईसीसी महासचिव जितेंद्र सिंह ने घोषणा की कि पार्टी एक परिवार में एक से अधिक टिकट नहीं देगी. राज्य के बीजेपी प्रमुख बसंत पांडा के भतीजे सत्ताधारी बीजेडी में शामिल हो गए और अपने चाचा को 'निरंकुश' करार दिया.

यह भी पढ़ें: मसूद अजहर पर नरम पड़ा चीन! कहा- भारत की चिंता समझते हैं, सुलझा लेंगे मसला

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधायक जितेंद्रनाथ मित्रा ने इस बीच पार्टी छोड़ दी और बीजेडी में शामिल हो गए. बीजेडी के वरिष्ठ नेता और वित्त मंत्री एस बी बेयरा ने कहा, 'चुनाव के समय में पार्टी के नेताओं को बदलना स्वाभाविक है. पहले भी ऐसा हुआ है. इसमें कुछ नया नहीं है. पार्टी छोड़ने वाले व्यक्तियों से बीजेडी की चुनाव की संभावना पर कोई असर नहीं पड़ेगा.'

यह भी पढ़ें: एक-दूसरे पर मिसाइल ताने थे भारत और पाकिस्तान, US ने किया बीच-बचाव: रिपोर्ट

इस बीच, बीजेपी ओडिशा प्रभारी अरुण सिंह ने दावा किया कि बीजेडी के कई नेता पार्टी में शामिल होने के लिए नेतृत्व के संपर्क में हैं. ओडिशा में11 अप्रैल से 29 अप्रैल तक चार चरणों में मतदान होगा.

यह भी पढ़ें: IPL 2019 : चेन्नई सुपर किंग्स ने एम.ए चिदंबरम स्टेडियम में शुरू की तैयारी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...