हजारों दीपों से जगमगाई अयोध्या, आज पीएम मोदी भूमिपूजन कर रखेंगे मंदिर की पहली ईंट

हजारों दीपों से जगमगाई अयोध्या, आज पीएम मोदी भूमिपूजन कर रखेंगे मंदिर की पहली ईंट
रोशनी से नहायी अयोध्या में हर ओर प्रसन्नता का वातावरण था. (Photo- AP)

अयोध्या (Ayodhya) नगरी मंगलवार सूर्यास्त होते ही जगमग रोशनी से नहा उठी और राम मंदिर (Ram Mandir) के भूमि पूजन (Bhumi Poojan) से एक दिन पहले संध्याकाल जीवंत हो उठा. बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) एक विशेष कार्यक्रम में भूमिपूजन में हिस्सा लेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2020, 5:49 AM IST
  • Share this:
अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) नगरी मंगलवार सूर्यास्त होते ही जगमग रोशनी से नहा उठी और राम मंदिर (Ram Mandir) के भूमि पूजन (Bhumi Poojan) से एक दिन पहले संध्याकाल जीवंत हो उठा. हर खासो-आम ने उल्लास के इस महोत्सव को 'माटी के दिये' प्रज्जवलित कर दिव्य बना दिया. संध्या आरती का समय होते ही प्रभु श्रीराम के भजन बजने लगे. हर ओर 'श्री राम चंद्र कृपालु भज मन, श्री राम जय राम जय जय राम' की गूंज थी. इस बीच हनुमान चालीसा और सुंदरकांड का भी पाठ चल रहा था. हर गली, हर भवन, हर कोना, हर दिशा तरंगित हो उठी. बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) एक विशेष कार्यक्रम में भूमिपूजन में हिस्सा लेंगे.

नया घाट और राम की पैडी (Ram Ki Paidi) से हनुमानगढ़ी (Hanumangadhi) तक मार्ग के दोनों ओर माटी के दीप प्रज्जवलित किये गये. रोशनी से नहायी अयोध्या में हर ओर प्रसन्नता का वातावरण था. बच्चे इस क्षण को सेल्फी के जरिए यादगार बनाने में मगन थे. इस दौरान पुलिस ने तुलसी उद्यान के निकट पैदल गश्त की. स्थिति पर पुलिस की नजर लगातार बनी हुई थी. अपनी मित्रमंडली के साथ दीप जलाने आये छोटी देवकाली निवासी रजत सिंह ने कहा कि यह उनके लिए विलक्षण क्षण है और इस पल को वह अपने जीवन में हमेशा संजोकर रखेंगे.

ये भी पढ़ें- भूमि पूजन से पहले जगमगाई अयोध्या, PHOTOS में देखिए कितना भव्य होगा राम मंदिर



रोशनी से नहाया अयोध्या का हर कोना
कारसेवकपुरम हो या नया घाट या हनुमान गढ़ी के आसपास का क्षेत्र- हर कोना रोशनी से नहाया हुआ था. राम की पैड़ी पर करीब डेढ़ लाख दिये जलाए गए हैं. इसके अलावा अयोध्या के सभी बड़े मंदिरों और 50 अन्य मंदिरों में भी दीप प्रज्जवलित किये गए. संध्या आरती में भजन का श्रवण, घंटा घड़ियाल, नगाडों की टंकार और शंखनाद वातावरण को अद्भुत बना रहा था. कुछ मंदिरों में किन्नर भी एकत्र हुए और भक्ति के रंग में रंगे नजर आये. दिन में बंद रही कई दुकानें शाम को खुल गयीं और दुकानदारों ने दुकानों के आगे दीप जलाये. इस बीच बच्चों और युवाओं ने नया घाट सहित अयोध्या की कई सड़कों पर रंगोली सजायी. सरयू नदी का पुल भी रंग बिरंगी रोशनी से नहाया हुआ था. रोशनी से नहायी सरयू मनोरम लग रही थी.

दो दिन पहले ही शुरू हो चुके हैं धार्मिक अनुष्ठान
अयोध्या में राम जन्मभूमि निर्माण के लिए भूमि पूजन से दो दिन पहले से ही धार्मिक गतिविधियां शुरू हो चुकी हैं. अयोध्या में हर जगह बैरीकेड लगा दिए गए हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपील की है कि अयोध्या में बुधवार को होने वाले भूमि-पूजन समारोह में सिर्फ वही लोग आएं, जिन्हें आमंत्रित किया गया है. सोमवार को 12 पुजारियों ने भगवान गणेश की पूजा-अर्चना की.

मुख्य समारोह के लिए आमंत्रित किए गए 175 प्रतिष्ठित अतिथियों में से 135 संत हैं जो विभिन्न आध्यात्मिक परंपराओं से जुड़े हुए हैं और वे सभी उपस्थित रहेंगे. इनके अलावा शहर के भी कुछ गणमान्य व्यक्तियों को आमंत्रित किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज