लाइव टीवी

Ayodhya case Verdict: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, दशकों से चला आ रहा कानूनी विवाद आज हो गया खत्‍म

News18Hindi
Updated: November 9, 2019, 1:01 PM IST
Ayodhya case Verdict: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, दशकों से चला आ रहा कानूनी विवाद आज हो गया खत्‍म
गृह मंत्री अमित शाह ने अयोध्‍या जमीन विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मील का पत्‍थर बताते हुए देशवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की.

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अयोध्‍या जमीन विवाद मामले (Ayodhya Land Dispute case) में आज ऐतिहासिक फैसला दे दिया है. इसके बाद गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि सभी समुदाय और धर्म के लोग फैसले को सहजता के साथ स्‍वीकर करें. उन्‍होंने कहा कि शीर्ष न्यायालय का ऐतिहासिक निर्णय अपने आप में मील का पत्थर साबित होगा. यह निर्णय भारत की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को मजबूत करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2019, 1:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. अयोध्‍या जमीन विवाद केस (Ayodhya Land Dispute case) में शनिवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले पर गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि आज राम जन्‍मभूमि (Ram Janmbhoomi) को लेकर दशकों से चल रहा कानूनी विवाद खत्‍म हो गया. उन्‍होंने सभी समुदायों और धर्म के लोगों से सुप्रीम कोर्ट के फैसले को सहजता के साथ स्‍वीकार करने की अपील की. उन्‍होंने कहा कि सभी शांति और सौहार्द्र के साथ एक भारत-श्रेष्‍ठ भारत के संकल्‍प पर अडिग रहें.

मील का पत्‍थर साबित शीर्ष अदालत का यह फैसला
अमित शाह ने कहा कि मैं राम जन्मभूमि पर सर्वसम्मति से आए शीर्ष न्यायालय के फैसले का स्वागत करता हूं. मैं भारत की न्याय प्रणाली और सभी जजों का अभिनन्दन करता हूं. राम जन्मभूमि कानूनी विवाद के लिए प्रयासरत सभी संस्थाएं, पूरे देश का संत समाज और अनगिनत अज्ञात लोगों के प्रति मैं कृतज्ञता व्यक्त करता हूं. आप सभी ने वर्षों तक इसके लिए प्रयास किया. मुझे विश्वास है कि शीर्ष न्यायालय का ऐतिहासिक निर्णय अपने आप में मील का पत्थर साबित होगा. यह निर्णय भारत की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को मजबूत करेगा.


Loading...






पीएम मोदी ने भी की थी शांति व सौहार्द्र की अपील
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को कहा था कि देश की न्यायपालिका के मान-सम्मान को सर्वोपरि रखते हुए समाज के सभी पक्षों, सामाजिक-सांस्कृतिक संगठनों, सभी पक्षकारों की ओर से सौहार्दपूर्ण व सकारात्मक वातावरण बनाने के लिए किए गए प्रयास स्वागत योग्य हैं. कोर्ट के निर्णय के बाद भी हम सबको मिलकर सौहार्द बनाए रखना है. अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला आएगा, वो किसी की हार-जीत नहीं होगा. उन्‍होंने देशवासियों से अपील करते हुए था, 'हम सब की यह प्राथमिकता रहे कि ये फैसला भारत की शांति, एकता और सद्भावना की महान परंपरा को और बल दे.'

ये भी पढ़ें:

Ayodhya Verdict: क्या हैं अयोध्या पर दिए गए फैसले के कानूनी मायने?

Ayodhya Verdict: गृहमंत्री शाह ने पूरे देश में सुरक्षा हालात की समीक्षा की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 12:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...