Home /News /nation /

आयुष मंत्री बोले- कोरोना की दवाइयों के बारे में फैलाई जा रही सूचनाएं सही नहीं

आयुष मंत्री बोले- कोरोना की दवाइयों के बारे में फैलाई जा रही सूचनाएं सही नहीं

वहीं, इस मामले पर Third World Network के वरिष्ठ कानून शोधकर्ता के गोपाकुमार द्वारा को एक पत्र लिखा गया है. इस पत्र में लिखा गया है कि   'यह लाइसेंस वैश्विक बाजार को दो भागो में विभाजित करने वाला है. इसमें लाभ पहुंचाने वाले बाजारों को गीलिड ने अपने साथ बनाए रखा है जबकि कम मुनाफे वाले बाजारों को पांच जेनेरिक कंपनियां दे दी गईं हैं.' खास बात ये है कि कुछ वक्त पहले मलेशिया के एक गैर-लाभकारी समूह ने भारत से इसी तरह की अपील की थी.

वहीं, इस मामले पर Third World Network के वरिष्ठ कानून शोधकर्ता के गोपाकुमार द्वारा को एक पत्र लिखा गया है. इस पत्र में लिखा गया है कि 'यह लाइसेंस वैश्विक बाजार को दो भागो में विभाजित करने वाला है. इसमें लाभ पहुंचाने वाले बाजारों को गीलिड ने अपने साथ बनाए रखा है जबकि कम मुनाफे वाले बाजारों को पांच जेनेरिक कंपनियां दे दी गईं हैं.' खास बात ये है कि कुछ वक्त पहले मलेशिया के एक गैर-लाभकारी समूह ने भारत से इसी तरह की अपील की थी.

केंद्रीय आयुष मंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) से निपटने को लेकर विभिन्न दवाइयों के कारगर होने की जो सूचनाएं फैलाई की जा रही हैं वो सही नहीं हैं.

    नई दिल्ली. दुनिया भर के डॉक्टर कोरोना वायरस (Coronavirus) से बचाव के साथ-साथ इसके इलाज के उपाए खोज रहे हैं. वहीं कोरोना वायरस से निपटने को लेकर विभिन्न दवाओं के कारगर होने की फैली झूठी अफवाओं को लेकर केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाईक ने शुक्रवार को लोकसभा में बयान दिया. नाईक ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने को लेकर विभिन्न दवाइयों के कारगर होने की जो सूचनाएं फैलाई की जा रही हैं वो सही नहीं हैं, इससे मंत्रालय का कोई लेनादेना नहीं है.

    सदन में तेजस्वी सूर्या, उत्तम कुमार रेड्डी और शताब्दी रॉय के पूरक प्रश्नों के उत्तर में केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाईक ने यह भी कहा कि आयुष मंत्रालय की ओर से जो परामर्श जारी किया गया था उसमें किसी दवा से कोरोना के उपचार का दावा नहीं किया गया. उन्होंने कहा कि परामर्श में सिर्फ श्वसन तंत्र को मजबूत बनाने के उपाय सुझाए गए थे.

    ‘दवाईयों के बारे में फैलाई जा रही झूठी अफवाएं’

    रेड्डी और शताब्दी ने सवाल किया कि सत्तापक्ष के कुछ लोगों की ओर से गौमूत्र और कुछ अन्य चीजों से कोरोना वायरस के ठीक होने का दावा किया जा रहा है, इस पर मंत्रालय का क्या कहना है? इसके जवाब में मंत्री ने कहा कि बहुत सारी चीजों का प्रसार किया जा रहा है. कुछ जानकारियों का प्रसार किया जा रहा है जो सत्यापित नहीं है. इससे मंत्रालय का कोई लेनादेना नहीं है.

    वहीं, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि कुछ चीजें भारत की पुरानी परंपरा से जुड़ी हैं. इसे मानना या नहीं मानना आपके ऊपर है

    भारत में अब तक 223 मामले आए सामने
    कोरोना वायरस से दुनिया भर में अब तक 10 हजार से ज्‍यादा लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि भारत में मरीजों की संख्‍या बढ़कर 223 हो गई है. हालांकि 223 की संख्‍या में रिकवर हुए लोगों की संख्‍या और भारत में मौत का आंकड़ा भी शामिल है. भारत में कोवि--19 के कारण अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है.

    (PTI इनपुट के साथ)

    ये भी पढ़ें :- कोरोना वायरस के चलते ममता का बड़ा कदम, अगले 6 महीने मुफ्त मिलेंगे गेहूं-चावल

    Tags: Corona Virus, Generic medicines, Lok sabha

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर