मुसलमानों के भी पूर्वज थे भगवान राम, अयोध्या में बनकर रहेगा मंदिर: बाबा रामदेव

बाबा रामदेव ने कहा कि मुझे विश्वास है कि पीएम मोदी के नेतृत्‍व में राम मंदिर भी बनेगा और राम जैसा चरित्र भी बनेगा.

News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 2:30 PM IST
News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 2:30 PM IST
राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को लेकर एक बार फिर बहस तेज हो चुकी है. योग गुरु बाबा रामदेव कहा कि भगवान राम केवल हिंदुओं और मुसलमानों के नहीं, बल्कि देश के पूर्वज हैं. उन्होंने कहा कि आस्था सबसे बड़ी चीज है और इस पर कुठाराघात नहीं करना चाहिए. बाबा रामदेव ने कहा कि मुझे विश्वास है कि पीएम मोदी के नेतृत्‍व में राम मंदिर भी बनेगा और राम जैसा चरित्र भी बनेगा.

नांदेड़ में 5वें अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे बाबा रामदेव ने कहा, “मुसलमान हमारे भाई हैं और हमारे पूर्वज एक ही हैं. उन्होंने कहा कि राम केवल हिंदुओं के नहीं, वह मुसलमानों के भी पूर्वज हैं. हमें अपने पूर्वजों का तिरस्कार नहीं करना चाहिए, बल्कि अपने पूर्वजों का गौरव बढ़ाना चाहिए.

‘मोदी सरकार के नेतृत्व में बनेगा राम मंदिर’

योग गुरु ने कहा कि उम्मीद है कि राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट जल्द ही सुनवाई कर अपना फैसला सुनाएगी. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर विवाद पर आपसी सहमति से हल करने के लिए 'बिचौलिए' नियुक्त किए हैं. लेकिन उनसे कोई परिणाम निकलता नहीं दिखाई दे रहा है. बाबा रामदेव ने कहा कि मुझे विश्वास है मोदी सरकार के नेतृत्‍व में अयोध्या में राम मंदिर भी बनेगा और राम जैसा चरित्र भी बनेगा.

हरिद्वार में हुई विश्व हिंदू परिषद की बैठक

बता दें कि राम मंदिर को लेकर संतो ने मोदी सरकार पर दवाब बनाना शुरू कर दिया है. गुरुवार को हरिद्वार में विश्व हिंदू परिषद ने एक प्रस्ताव पारित करते हुए केंद्र से रामभक्तों की आशाओं के अनुरूप अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण में आने वाली समस्त बाधाओं को अतिशीघ्र दूर करने का आह्वान किया. बैठक में वीएचपी के दाधिकारी, तमाम संत-महंत, साध्वी ऋतंभरा और अयोध्या से भी कुछ संत पहुंचे थे.

ये भी पढ़ें-
Loading...

वीएचपी मार्गदर्शक मंडल की दूसरे दिन की बैठक शुरु, राम मंदिर पर प्रस्ताव रखा गया

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 21, 2019, 1:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...