बाबुल सुप्रियो: बंगाल के रण में मशहूर सिंगर की किस्मत दांव पर, MP से MLA बनने की रेस में

टॉलीगंज से बाबुल सुप्रियो को हार का सामना करना पड़ा है. (फोटो- @SuPriyoBabul)

टॉलीगंज से बाबुल सुप्रियो को हार का सामना करना पड़ा है. (फोटो- @SuPriyoBabul)

बांग्ला फिल्म इंडस्ट्री का केंद्र कही जाने वाली पश्चिम बंगाल की टॉलीगंज (Tollygunge) सीट पर भी सबकी नजर रहेगी, जहां से बीजेपी ने बांग्ला फिल्म इंडस्ट्री में अच्छी पहचान रखने वाले बाबुल सुप्रियो (Babul Supriyo) को उम्मीदवार बनाया है.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल समेत 5 राज्यों में आज विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित किए जा रहे हैं. सुबह 8 बजे वोटों की गिनती शुरू हो चुकी है. शुरुआती रुझानों के मुताबिक पश्चिम बंगाल में टीएमसी (TMC) को बहुमत मिलता हुआ नजर आ रहा है. वहीं, पश्चिम बंगाल की हाई-प्रोफाइल सीट टॉलीगंज (Tollygunge) से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के उम्मीदवार और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो (Babul Supriyo) मैदान में हैं. शुरुआती रुझानों में बाबुल सुप्रियो पीछे चल रहे हैं.

आसनसोल सीट से बीजेपी के सांसद हैं बाबुल सुप्रियो

बांग्ला फिल्म इंडस्ट्री में अच्छी पहचान रखने वाले मशहूर सिंगर बाबुल सुप्रियो आसनसोल सीट से बीजेपी के सांसद हैं. सांसद रहने के बाद भी बीजेपी ने उन्हें विधानसभा चुनाव में उतारा है. बाबुल सुप्रियो का मुकाबला टीएमसी से तीन बार के विधायक और खेल राज्यमंत्री अरुप बिस्वास (Aroop Biswas) से है.

ये भी पढ़ें- Assembly Elections 2021 Results: असम, बंगाल, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी की इन 5 सीटों पर रहेगी पूरे देश की नजर
Youtube Video


2014 में बीजेपी में हुए थे शामिल

बाबुल सुप्रियो ने साल 2014 में अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत की थी. लोकसभा चुनाव 2014 से ठीक पहले बीजेपी में शामिल हो गए. पार्टी ने उन्हें पश्चिम बंगाल की आसनसोल लोकसभा सीट से टिकट दे दी. टीएमसी का दबदबा होने के बावजूद बाबुल सुप्रियो ने आसनसोल से बीजेपी को जीत दिला दी.



ये भी पढ़ें- 2021 विधानसभा चुनाव परिणाम समाचार: 5 राज्यों के चुनाव के सबसे तेज और सटीक नतीजे यहां देखें लाइव

इस जीत के बाद बाबुल को नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री बना दिया गया. मोदी सरकार ने बाबुल को कई मंत्रालय की जिम्मेदारी दी. उन्होंने मोदी सरकार में शहरी विकास मंत्रालय, आवास और शहरी गरीबी उपशमन मंत्रालय और भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उपक्रम मंत्रालय का कामकाज देखा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज