लाइव टीवी
Elec-widget

इन स्टेशनों पर लेकर गए 15KG से ज्यादा भारी सामान, तो नहीं कर पाएंगे मेट्रो में सवारी

News18Hindi
Updated: February 6, 2018, 9:30 AM IST
इन स्टेशनों पर लेकर गए 15KG से ज्यादा भारी सामान, तो नहीं कर पाएंगे मेट्रो में सवारी
अब मेट्रो के किराए में छात्रों और बुजुर्गों को छूट देगी केंद्र सरकार

डीएमआरसी ने हाल ही में 5 चुनिंदा मेट्रो स्टेशनों पर सामानों की स्क्रीनिंग मशीनों के सामने U-शेप्ड मेटल बैरियर्स इंस्टॉल किए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 6, 2018, 9:30 AM IST
  • Share this:
दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (डीएमआरसी) के 20 स्टेशनों पर 15 किलो से ज्यादा भारी या बड़े बैग के साथ एंट्री जल्द ही बंद हो जाएगी. 20 मार्च से 15 किलो से ज्यादा वजन लेकर यात्रा करने वाले लोगों को सुरक्षा जांच के दौरान लौटा दिया जाएगा.

डीएमआरसी ने हाल ही में 5 चुनिंदा मेट्रो स्टेशनों पर सामानों की स्क्रीनिंग मशीनों के सामने U-शेप्ड मेटल बैरियर्स इंस्टॉल किए हैं. जो 15 किलो से ज्यादा भारी सामानों या बड़े बैग को सुरक्षा जांच के दौरान लौटा देगा.

बाराखंबा रोड, आनंद विहार, चांदनी चौक, कश्मीरी गेट और शाहदरा मेट्रो स्टेशनों पर ये U-शेप्ड मेटल बैरियर्स लगाए गए हैं. 20 मार्च से इन स्टेशनों पर सिर्फ 15 किलो तक के वजन वाले बैग, जिसकी ऊंचाई 25 सेंटीमीटर, लंबाई 60 सेंटीमीटर और चौड़ाई 45 सेंटीमीटर या उससे कम होगी उसके साथ एंट्री मिलेगी.

डीएमआरसी इन 5 स्टेशनों के बाद जल्द ही 15 और मेट्रो स्टेशनों पर इस तरह के U-शेप्ट मेटल बैरियर्स इंस्टॉल करने की प्लानिंग कर रही है. आदर्श नगर, आजादपुर, बदरपुर, बॉटनिकल गार्डन, चावड़ी बाजार, दिलशाद गार्डन, गोविंदपुरी, हुडा सिटी सेंटर, इंद्रलोक, करोल बाद, लाल किला, नागलोई, आरके आश्रम मार्ग, रिठाला और नई दिल्ली मेट्रो स्टेशन पर ऐसे बैरियर्स लगाए जाएंगे.


डीएमआरसी के प्रवक्ता ने बताया कि ऑपरेशंस एंड मेंटेनेंस एक्ट के तहत इस तरह के बैरियर्स लगाए जा रहे हैं. इसके तहत 15 किलो से ज्यादा भारी बैग और सामानों को सुरक्षा जांच से वापस कर दिया जाएगा.

टोकन लेकर सफर करनेवाले यात्री को अगर ओवरसाइज बैग या 15 किलो से ज्यादा सामान के चलते लौटाया गया, तो वह अपना टोकन वापस करके पैसे वापस ले सकेगा.


डीएमआरसी के मुताबिक, मेट्रो ट्रेन में रोजाना 28 लाख लोग सफर करते हैं. पीक आवर्स में ट्रेन में भीड़ होती है. लोग ओवरसाइज सामान के साथ ट्रेनों में सफर करते हैं, जिससे दूसरे यात्रियों को दिक्कत होती है. इसके अलावा सुरक्षा जांच में दिक्कत आने के साथ बैगेज स्कैनर भी खराब होने की शिकायतें बढ़ रही थी. इसलिए ये फैसला लिया जा रहा है.
Loading...

ये भी पढ़ें:  सिद्धारमैया का PM के खिलाफ पलटवार, कहा- 'मोदी मेरे खिलाफ भ्रष्टाचार के सबूत दें'

बाइक से पेट्रोल चुराते पकड़ा गया पुलिसवाला, सामने आया VIRAL VIDEO

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2018, 9:03 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...