Coronavirus: कोरोना की मार, अब 30 जून तक अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स पर लगी पाबंदी

भारत ने 27 देशों के साथ एयर बबल करार किया था, इसमें यूएस, यूके, यूएई, केन्या, भूटान और फ्रांस जैसे देश शामिल हैं.

भारत ने 27 देशों के साथ एयर बबल करार किया था, इसमें यूएस, यूके, यूएई, केन्या, भूटान और फ्रांस जैसे देश शामिल हैं.

Coronavirus: कोविड-19 महामारी की वजह से 23 मार्च, 2020 से भारत में अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवा को स्थगित रखा हुआ है. लेकिन विशेष अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट वंदे भारत मिशन के तहत मई से काम कर रही थी और द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत चुनिंदा देशों में जुलाई से सेवाएं जारी हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश में कोरोना की मार ने विमानन उद्योग को भी काफी नुकसान पहुंचाया है. नागरिक विमानन के महानिदेशक (डीजीसीए) ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि कोरोनावायरस के चलते अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ान सेवा के स्थगन को 30 जून तक बढ़ा दिया गया है. डीजीसीए ने इससे पहले 26 जून, 2020 को जारी किए गए अपने बयान में संशोधन कर कमर्शियल फ्लाइट पर आंशिक पाबंदी लगाने का आदेश जारी किया, डीजीसीए ने ये भी कहा कि अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट कुछ चुनिंदा रूट पर उड़ान भर पाएंगी लेकिन ये मामले-मामले पर निर्भर करता है.

कोविड-19 महामारी की वजह से 23 मार्च, 2020 से भारत में अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवा को स्थगित रखा हुआ है. लेकिन विशेष अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट 'वंदे भारत' मिशन के तहत मई से काम कर रही थी और द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ व्यवस्था के तहत चुनिंदा देशों में जुलाई से सेवाएं जारी हैं.

भारत ने 27 देशों के एयर बबल करार किया

भारत ने 27 देशों के साथ एयर बबल करार किया था, इसमें यूएस, यूके, यूएई, केन्या, भूटान और फ्रांस जैसे देश शामिल हैं. दो देशों को बीच हुए एयर बबल करार के तहत देशों की एयरलाइंस की विशेष अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट दोनों देशों की क्षेत्र में उड़ान भर सकती हैं.


ये सेवाएं अब भी रहेंगी जारी

हालांकि दूसरी लहर में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के चलते कई देशों ने हालात के काबू में आने तक एयर बबल करार के तहत भी फ्लाइट पर पाबंदी लगी दी है. हालांकि डीजीसीए ने साफ किया है कि स्थगन का सभी अंतरराष्ट्रीय कार्गो सेवाओं विशेष अनुमति प्राप्त फ्लाइट की सेवाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा.



ये भी पढ़ेंः- DRDO की एंटी-कोविड दवा 2-DG 990 रुपये में मिलेगी, सरकारी अस्‍पतालों को मिलेगी छूट

भारत में क्या है कोरोना महामारी की स्थिति

देश में 44 दिनों बाद कोरोना वायरस के सबसे कम नए मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 1 लाख 86 हजार 364 नए कोरोना केस आए और 3660 संक्रमितों की जान चली गई है. वहीं 2 लाख 59 हजार 459 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. यानी कि बीते दिन 76,755 एक्टिव केस कम हो गए. इससे पहले बुधवार को 211,298 लाख नए केस दर्ज किए गए थे और 3847 संक्रमितों की मौत हुई थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज