Home /News /nation /

Bangalore Electric Car Charging Stations: मिसाल बना बेंगलुरु का ईवी मॉडल! 3 माह के भीतर पेट्रोल पंप से अधिक EV चार्जिंग स्टेशन, पढ़िए ये खास स्टोरी

Bangalore Electric Car Charging Stations: मिसाल बना बेंगलुरु का ईवी मॉडल! 3 माह के भीतर पेट्रोल पंप से अधिक EV चार्जिंग स्टेशन, पढ़िए ये खास स्टोरी

इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग (सांकेतिक तस्वीर)

इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग (सांकेतिक तस्वीर)

Bangalore Electric Car Charging Stations/EV Model Of Bengaluru : बेंगलुरु (Bengaluru) संभवत: देश का पहला शहर है, जिसने संस्थानिक स्तर (Institutional Level) पर इस समस्या का समाधान करने की पहल शुरू की है. ‘बेंगलुरु मिरर’ के मुताबिक, बेंगलुरु इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी (BESCOM) ने अभी पूरे शहर में ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Stations) लगाने का बीड़ा उठाया है. यही नहीं, वह शायद देश की पहली सरकारी नोडल एजेंसी भी है, जो ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Stations) स्थापित करने का काम कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

Bangalore Electric Car Charging Stations: सूचना-तकनीक (Information Technology) के क्षेत्र में बेंगलुरु (Bengaluru) देश ही नहीं, दुनिया में अपना नाम स्थापित कर चुका है. अब इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicle) के संचालन के मामले में वह यही मुकाम हासिल करने की तैयारी में है. कर्नाटक सरकार (Karnataka Govt) के स्तर पर इस दिशा में जो प्रयास हुए हैं, उससे संकेत मिलता है कि बेंगलुरु का ईवी मॉडल (EV Model of Bengaluru) जल्द ही देश और दुनिया के लिए मिसाल बन सकता है. दरअसल, एक अनुमान के मुताबिक बेंगलुरु शहर के भीतर करीब 450 पेट्रोल पंप हैं. ऐसे में अगर सरकार की योजना पूरी तरह क्रियान्वित हो जाती है तो तीन माह के भीतर महानगर में करीब 600 ईवी चार्जिंग स्टेशन हो जाएंगे, जो अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि साबित हो सकती है.

दरअसल, इलेक्ट्रिक वाहनों (EV) के मामले में सबसे पहली और प्रमुख आवश्यकता या कहें कि अभी दिक्कत है चार्जिंग स्टेशनों की. देश के लगभग हर शहर में ईवी चार्जिंग स्टेशन इस वक्त न के बराबर ही हैं. लेकिन बेंगलुरु (Bengaluru) संभवत: देश का पहला शहर है, जिसने संस्थानिक स्तर (Institutional Level) पर इस समस्या का समाधान करने की पहल शुरू की है. ‘बेंगलुरु मिरर’ के मुताबिक, बेंगलुरू इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी (BESCOM) ने अभी पूरे शहर में ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Stations) लगाने का बीड़ा उठाया है. यही नहीं, वह शायद देश की पहली सरकारी नोडल एजेंसी भी है, जो ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Stations) स्थापित करने का काम कर रही है. वह अब तक अलग-अलग स्थानों पर 136 ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Stations) लगा चुकी है. ये अभी शहर में बेसकॉम (BESCOM) के ऑफिस परिसरों में हैं. इनमें 106 स्टेशन एसी ईवी स्लो चार्जर हैं. जबकि 30 अन्य डीसी ईवी फास्ट चार्जर.

अगले 3 महीने में 455 चार्जिंग स्टेशन और लगेंगे
खबर के मुताबिक, बेसकॉम ने अगले 3 महीने में 455 अन्य चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने की तैयारी की है. ये विभिन्न कॉलोनियों, अपार्टमेंट्स, सरकारी दफ्तरों के परिसरों आदि में लगाए जाएंगे. बताया जाता है कि इसके लिए बेसकॉम के वरिष्ठ पदाधिकारी विभिन्न रहवासी कल्याण समितियों के साथ बातचीत कर रहे हैं. बेसकॉम के प्रबंध निदेशक राजेंद्र चोलन बताते हैं, ‘हमने नए ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Stations) लगाने के लिए स्थानों की पहचान कर ली है. ये सभी पीपीपी (Public Private Partnership) मॉडल पर आधारित होंगे. ये 25 किलोवॉट के डीसी चार्जिंग स्टेशन होंगे. यहां 30 मिनट के भीतर कोई भी वाहन पूरा चार्ज हो जाएगा. करीब 40 लाख की लागत से एक चार्जिंग स्टेशन स्थापित होगा. इसमें 5 चार्जिंग प्वाइंट होंगे. यानि एक चार्जिंग प्वाइंट पर 8 लाख रुपये की लागत आएगी.’

जल्द ही बेंगलुरु शहर से बाहर अन्य जिलों में भी
चोलन बताते हैं, ‘कुछ पहले जब हमने ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Stations) लगाने की शुरुआत की थी, तो ईवी की मांग कम थी. लेकिन अब यह लगातार बढ़ रही है. इसलिए हमने अधिक चार्जिंग स्टेशन लगाने की योजना बनाई है. हम राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों से भी बात कर रहे हैं. अन्य जिलों के कलेक्टरों से बातचीत भी जारी है. जल्द ही राजमार्गों और अन्य जिलों में भी हम ईवी चार्जिग स्टेशनों (EV Charging Stations) की सुविधा उपलब्ध कराने वाले हैं.’

Tags: Bengaluru City, Electric Vehicles, EV charging, Hindi news live

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर