Home /News /nation /

बुखार से परेशान बांग्लादेशी तैरकर पहुंचा असम, बोला-मेरा कोरोना का इलाज करा दो

बुखार से परेशान बांग्लादेशी तैरकर पहुंचा असम, बोला-मेरा कोरोना का इलाज करा दो

असम पहुंचे बांग्लादेशी युवक को बीएसएफ ने वापस बांग्लादेश भेज दिया है. (फाइल फोटो)

असम पहुंचे बांग्लादेशी युवक को बीएसएफ ने वापस बांग्लादेश भेज दिया है. (फाइल फोटो)

इस पूरी घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचे बीएसएफ के जवानों ने युवक को हिरासत में ले लिया है. बाद में बांग्लादेशी सेना को बुलाकर युवक को सौंप दिया गया.

    करीमगंज. दुनियाभर के देश कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से परेशान हैं. कई शक्तिशाली देशों ने तो कोरोना (Corona) के सामने घुटने तक टेक दिए हैं. ऐसे संकट के समय में भारत (India) अभी भी कोरोना के साथ जंग लड़ रहा है. यही कारण है बुखार से पीड़ित एक बांग्लादेशी (Bangladesh) युवक कुशियारा नदी में तैरता हुआ असम की सीमा में दाखिल हो गया. यहां पहुंचने पर उसने करीमपुर जिले के मुबारकपुर पहुंचकर ग्रामीणों को बताया कि उसे कोरोना है और उसका इलाज कराने में उसकी मदद करें. युवक की ये बात सुनकर ग्रामीणों में हड़कंप मच गया. इस पूरी घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचे बीएसएफ के जवानों ने युवक को हिरासत में ले लिया है. बाद में बांग्लादेशी सेना को बुलाकर युवक को सौंप दिया गया.

    युवक की पहचान अब्दुल हक के रूप में हुई है. अबदुल बांग्लादेश के सुनामगंज जिले का रहने वाला है और वहां से करीमगंज का मुबारकपुर इलाका महज चार किलोमीटर की दूरी पर है. बीएसएफ के प्रवक्ता और डीआईजी जेसी नायक ने बताया युवक कुशियारा नीद पारकर रविवार सुबह 7.30 बजे भारतीय सीमा में दाखिल हुआ था. गांव वालों ने उसे देखा तो उसे रोक लिया. उससे बातचीत में पता चला​ कि वह बांग्लोदशी नागरिक है.

    इसके बाद ग्रामीणों ने इसकी सूचना सेना को दे दी. नायक ने बताया जांच में उसने बताया कि उसे कोरोना है और वह इलाज के लिए भारत में आया है. सेना ने स्पष्ट नहीं किया कि उसे कोरोना था या नही. इसके बाद सेना ने इसकी जानकारी बांग्लादेशी सेना को दी और युवक को उन्हें सौंप दिया.

    इसे भी पढ़ें :- कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में आगे आया निजामुद्दीन मरकज, 200 जमाती देंगे प्लाज़्मा

    नदी का जलस्तर अभी काफी कम है
    डीआईजी नायक ने बताया, कुशियारा नदी में मानसून के समय अकसर बाढ़ आ जाती है लेकिन इस समय पानी का स्तर काफी कम है. जो कोई भी तैरना जानता है वह इस नदी को अब आसानी से पार कर सकता है. नायक ने बताया कि ये युवक जिस जगह से आया था वहां पर फेंसिंग भी नहीं की गई है. यही कारण है कि युवक आसानी से भारत में प्रवेश कर गया.

    इसे भी पढ़ें :-

    Tags: Bangladesh, BSF, Corona, Corona Virus, Coronavirus

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर